नव-विवाहिता के हाथों की नहीं सूख पाई थी मेहंदी, हादसे ने छीन लिया पति

punjabkesari.in Saturday, Dec 19, 2020 - 09:29 AM (IST)

नारायणगढ़ : गांव हड़बौन का भूषण उस समय मानो पत्थर की मूरत बन गया जब उसे अपनी 2 लड़कियों के शव देखे। भूषण ने बताया कि उसके पास 3 लड़कियां एवं 1 लड़का है, जिनमें 22 वर्षीय कोमल जोकि कुआरी है तथा दूसरे नंबर की 21 वर्षीय प्रियंका जिसका नारायणगढ़ के वार्ड नं. 9 निवासी शंटी से डेढ़ वर्ष पूर्व विवाह हुआ था। एक अन्य लड़की 10वीं कक्षा में पढ़ती है।

नारायणगढ़ में किसी का जन्मदिन होने के कारण वह अपनी बेटी प्रियंका को नारायणगढ़ छोड़कर गया था। जिसपर आज शुक्रवार को गांव लखनौरा में दवाई लेने के लिए प्रियंका व कोमल नारायणगढ़ से थ्री-व्हीलर में बैठकर लखनौरा ला रही थीं कि रास्ते में यह भयानक हादसा हो गया। लड़कों से अधिक लड़कियों से प्यार करने वाले पिता पर दु:खों का पहाड़ टूट पड़ा। बता दें कि नारायणगढ़-डैहर अम्बली रोड पर शुक्रवार को हुई सड़क दुर्घटना में 5 गांवों के 6 लोगों की मौत हो गई। वहीं पूर्व विधायक रामकिशन गुज्जर सिविल अस्पताल पहुंचे और परिजनों को सांत्वना दी। 

18 दिन पहले ही हुई थी सुनील की शादी
इस दुर्घटना में मारे गए थ्री-व्हीलर चालक सुनील कुमार के परिवार पर तो मानों मुसीबतों का पहाड़ ही टूट गया। सुनील कुमार का अभी 18 दिन पूर्व ही विवाह हुआ था तथा अभी उसकी नव-विवाहिता पत्नी के हाथों की मेहंदी सूखी भी नहीं थी तो इतना बड़ा हादसा हो गया। सुनील कुमार के साथ रह रही सुनील कुमार की मां भी विधवा हैं क्योंकि काफी अरसे पहले सुनील कुमार के पिताजी का निधन हो गया था। मृतक सुनील के 2 भाई हैं और दोनों भाइयों ने मिल-जुलकर ही सुनील का विवाह किया था। आज सुनील की मौत से उन्हें भीतर तक तोड़कर रख दिया, वहीं उसकी पत्नी और मां का रो-रोकर बुरा हाल था। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static