फार्मेसी काउंसिल मामले में विधानसभा घेराव करने की कोशिश में धरे गए नवीन जयहिंद

punjabkesari.in Tuesday, Aug 09, 2022 - 10:51 PM (IST)

चंडीगढ़(चंद्रशेखर धरणी): हरियाणा स्टेट फार्मेसी काउंसिल में भ्रष्टाचार पर कार्रवाई के लिए नवीन जयहिंद ने अपने समर्थकों सहित हरियाणा विधानसभा का घेराव करने की कोशिश की, फिर चंडीगढ़ पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। कई घंटे तक नवीन जयहिंद सहित उन्हें समर्थकों को चंडीगढ़ सेक्टर 3 पुलिस थाने में बिठाकर रखा और देर शाम तक वह पुलिस थाने में हिरासत में रहे। नवीन जयहिंद ने कहा कि फार्मेसी काउंसिल में भ्रष्टाचार में शामिल लोगों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है। मामले में मुख्य शिकायतकर्ता राजेश कौशिक ने बताया कि उन्होंने काउंसिल में व्याप्त भ्रष्टाचार का खुलासा किया। एक दलाल और काउंसिल के उप-प्रधान सोहन लाल कंसल रिश्वत लेते हुए, रंगे हाथों पकड़े गए। हरियाणा राज्य चौकसी ब्यूरो ने मामले में कुछ लोगों  के खिलाफ भ्रष्टाचार के विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया, लेकिन मामले में कुछ आरोपी आज तक गिरफ्तार नहीं किए गया।

 

विधानसभा की तरफ कूच कर रहे आम आदमी पार्टी के नेता नवीन जयहिंद, रजेशा कौशिक जझझर, नवीन भूखड़, श्याम शर्मा, पवन (हांसी) को गिरफ्तार कर विधानसभा के सामने सेक्टर 3 चंडीगढ़ थाने में ले गए। राजेश कौशिक ने बताया कि उनके साथ फरयादी पवन, जिसने डिप्लोमा इन फार्मेसी की रजिस्ट्रेशन हेतु हरियाणा स्टेट फार्मेसी काउंसिल में आवेदन किया था। लंबे समय तक रजिस्ट्रेशन न होने पर माननीय पंजाब हरियाणा कोर्ट में गुहार लगाई थी। न्यायाधीश ने काउंसिल को आदेश दिए थे कि 45 दिन के अन्दर रजिस्ट्रेशन कर दें। इतना ही नहीं 45 दिनों का समय निकल जाने के बाद भी रजिस्ट्रेशन नहीं की। जिससे दुखी होकर जहां अवमानना का मामला न्यायालय में विचाराधीन है। पवन ने हताश होकर आत्महत्या का प्रयास भी किया था। पवन व अन्य साथियों का कहना है कि जब विश्व भर में कहीं से भी शिक्षा ग्रहण करने का अधिकार है। हजारों आवेदकों के रजिस्ट्रेशन नवीकरण लंबित पड़े हैं।

 

 (हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Gourav Chouhan

Related News

Recommended News

static