26 जून को जंतर मंतर पर नहीं होगा नवीन जयहिंद का प्रदर्शन, ये बताई वजह

punjabkesari.in Friday, Jun 24, 2022 - 06:33 PM (IST)

रोहतक(दीपक): कश्मीरी पंडितों के लिए जंतर-मंतर पर होने वाला नवीन जयहिंद का प्रदर्शन अब 26 जून की बजाय 10 जुलाई को होगा। क्योंकि इसके लिए उन्हें अनुमति नहीं मिली है। इसकी जानकारी खुद जयहिंद ने दी है। साथ ही उन्होंने वामन मेश्राम को खुली चेतावनी देते हुए कहा कि रोहतक में कार्यक्रम करने से पहले मेश्राम एक बार भगवान परशुराम का फरसा देख ले और अगर इस दौरान कोई घटना होती है, तो उसके लिए मुख्यमंत्री व गृहमंत्री जिम्मेदार होंगे।

अग्निपथ को लेकर युवाओं के प्रदर्शन के कारण नहीं मिली इजाजत

आम आदमी पार्टी हरियाणा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने कश्मीरी पंडितों की टारगेट किलिंग के विरोध में दिल्ली के जंतर मंतर पर धरना देने का ऐलान किया था। लेकिन अब इस प्रदर्शन के समय में बदलाव कर दिया गया है। जयहिंद ने बताया कि अग्निपथ को लेकर युवा दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके चलते उन्हें जंतर मंतर पर प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं मिली है। इसलिए इस कार्यक्रम में बदलाव किया गया है। 

वामन मेश्राम को फरसा दिखाकर दी चेतावनी

PunjabKesari

इस मौके पर नवीन जयहिंद ने वामन मेश्राम को खुली चेतावनी दी है कि रोहतक में कार्यक्रम करने से पहले भगवान परशुराम के फरसे को देख लें। वह किसी भी कीमत पर इस कार्यक्रम को नहीं होने देंगे। अगर कोई भी घटनाक्रम होता है तो उसके जिम्मेदार मुख्यमंत्री व गृहमंत्री होंगे। उन्होंने कहा कि किसी भी जाति के खिलाफ बोलना सामाजिक दंगे भड़काना होता है और शायद यह कार्यक्रम भी सरकार के इशारे पर हो रहा है। ताकि कोई दंगा भड़के, लेकिन वे उनकी इस मंशा को भी पूरा नहीं होने देंगे।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static