करनाल कार हादसे के 5 घायलों में 2 की मौत, अस्पताल पर लापरवाही के आरोप

punjabkesari.in Saturday, May 07, 2022 - 10:21 PM (IST)

करनाल: हरियाणा के करनाल जिले में नेशनल हाइवे 44 पर तरावड़ी फ्लाईओवर के नजदीक हुए सड़क हादसा में घायल मां और बेटे की ईलाज के दौरान मौत हो गई । कार में सवार बच्चे की हालत फिलहील गंभीर बनी हुई है। एनएच 44 पर हुए इस हादसे का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि डिवाडर से टकराने के बाद कार के परखर्चे उड़ गए थे। 

दो महिलाओं और दो पुरुष समेत एक छोटा बच्चा हुआ था घायल

कार में 5 लोग सवार रहे। इनमें दो महिलाएं, एक छोटा बच्चा और दो पुरुष बताए गए।इस हादसे में इलाज के दौरान मां और बेटे की मौत हो गई जबकि एक बच्चे की हालत गंभीर है। बाकि घायलों को इलाज के लिए परिजन करनाल के कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज से किसी अन्य निजी अस्पताल लेकर गए हैं।

जानकारी के अनुसार यह परिवार अंबाला का रहने वाला है, जो खाटू श्याम से वापसी में अंबाला लौट रहा था। जैसे ही यें लोग तरावड़ी फ्लाईओवर के पास पहुंचे तो गाड़ी का बैलेंस खराब होने के चलते उनकी गाड़ी डिवाइडर से टकरा गई। हादसे में घायल हुए 5 लोगों में एक बच्चा भी शामिल है। हादसे के बाद घायलों को ईलाज के लिए तुरंत करनाल स्थित कल्पना चावला मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तब डॉक्टरों ने बताया था कि सभी घायल खतरे से बाहर हैं। सभी अच्छे से बोल भी रहे थे। फिर एक के बाद दो की घायलों की मौत हो गई। मृतकों की पहचान 34 वर्षीय संदीप और उनकी बुजुर्ग मां के रूप में हुई है। संदीप के बेटे की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। घायलों की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें शहर के निजि अस्पताल में शिफ्ट किया गया है।

परिवार का आरोप, घायलों को नहीं मिला सही ईलाज

परिवार के सदस्य ने बताया कि उनके मरीज करीब 3 घंटे तक बिना ईलाज के पड़े रहे। कभी किसी कागज तो कभी किसी रसीद को लेकर समय खराब किया गया। अगर समय रहते घायलों को ईलाज मिल जाता तो शायद संदीप और उनकी मां को बचाया जा सकता था।

वहीं एएसआई अनिल कुमार ने बताया कि पुलिस के पास एक्सीडेंट में दो लोगों की मौत होने की सूचना आई थी। मरने वालों में एक महिला और एक पुरुष है। परिजनों द्वारा डॉक्टरों पर घायलों का सही तरीके से इलाज ना किए जाने के आरोपों पर उन्होंने कहा कि इस मामले में परिजनों द्वारा जो शिकायत दी जाएगी, उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static