बिना रूकावट अस्पतालों तक पहुंचेगी ऑक्सीजन, फरीदाबाद पुलिस ने बनाया ग्रीन कॉरिडोर

4/23/2021 4:02:10 PM

फरीदाबाद(अनिल राठी): लिंडे इंडिया लिमिटेड के रिफलिंग प्लांट से सेक्टर 6 से बिना किसी रूकावट के अस्पतालों तक ऑक्सीजन को पहुंचाने के लिए फरीदाबाद पुलिस ने ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया है। इस ग्रीन कॉरिडोर में पुलिस के द्वारा इस प्लांट से ऑक्सीजन के सिलेंडर लेकर निकलने वाली गाड़ी को पायलट किया जा रहा है। फरीदाबाद की सीमा समाप्त होने तक उस गाड़ी को बिना ट्रैफिक में फंसे निकाला जा रहा है। इसके लिए फरीदाबाद पुलिस की तरफ से रोड मैप इन कर ली गई है और जिन रास्तों से ऑक्सीजन से भरे सिलेंडरों की गाड़ी निकाली जाएगी उसकी भी रोड में बना लिया गया है। फरीदाबाद में जिन जिन अस्पतालों में यहां से सप्लाई हो रही है उन अस्पतालों को भी चिन्हित कर उनके लिए भी रोडमैप तैयार कर लिया गया है और उन रास्तों पर पुलिस यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाए रखने का काम करेगी ताकि यहां से निकलकर गाड़ी आसानी से अस्पतालों में पहुंच सके।

30 मिनट में पहुंचेगी ऑक्सीजन की गाड़ी
लिंडे इंडिया लिमिटेड का रिफ्लिंग प्लांट बल्लमगढ़ के सेक्टर 6 में है दिल्ली या नोएडा तक पहुंचने के लिए उसको करीब 1 घंटे का समय लगता है लेकिन ग्रीन कोरिडोर बन जाने ऑक्सीजन की गाड़ी यह दूरी करीब लगभग 30 मिनट में ही तय कर लेगी   लिंडे इंडिया लिमिटेड से निकलने वाली ऑक्सीजन की गाड़ियों को नेशनल हाईवे नंबर 19 और बाईपास रोड से दिल्ली और नोएडा के लिए भेजा जाएगा।

इसके अलावा फरीदाबाद शहर में होने वाली सप्लाई के लिए भी मुख्य चौराहों पर पुलिस की तैनाती रहेगी और जहां पर यातायात की समस्या ज्यादा रहती है जैसे कि बल्लभगढ़ फ्लाईओवर, बाटा फ्लाईओवर, हार्डवेयर चौक सहित कई अन्य स्थानों पर भी पुलिस बल की तैनाती रहेगी और पुलिस प्रशासन के कंधों पर अहम जिम्मेदारी रहेगी क्योंकि फरीदाबाद में ही ऑक्सीजन सप्लाई करने के लिए ऑक्सीजन गाड़ी को अस्पताल तक पहुंचने में घंटे भर का समय लग जाता है  लेकिन अब ग्रीन कॉरिडोर के बन जाने से करीब 20 से लेकर 30 मिनट तक अस्पताल में ऑक्सीजन पहुंच पाएगी। फरीदाबाद के विभिन्न अस्पतालों में इस समय 25 टन ऑक्सीजन की रोजाना आवश्यकता है और स्वास्थ्य विभाग के पास पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मौजूद है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


Content Writer

Isha

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static