पंजाब केसरी की खबर पर लगी मुहर, 3 महीने पहले दी थी दुष्यंत चौटाला को लेकर ये जानकारी

2/19/2020 1:26:11 PM

चंडीगढ़ (धरणी)- पंजाब केसरी में 9 नवम्बर 2019 को छपी खबर पर आखिरकार मुहर लग गई।लगभग साढ़े तीन माह बाद हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञान चन्द गुप्ता ने इस बात की पुष्टि की है की हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को हरियाणा विधानसभा में रूम दे दिया गया है। हरियाणा में चीफ व्हिप को मिला रूम अब भविष्य में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत का कार्यालय बनेगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के हस्तक्षेप के विधानसभा में अब चीफ व्हिप वाला रूम देने पर सहमति बनी है।

PunjabKesari
उपमुख्यमंत्री के रूप में दुष्यंत चौटाला को विधानसभा ने कार्यलय मिलने के बाद यह पहले ऐसे व्यक्ति हैं जिन्हें बतौर उपमुख्यमंत्री विधानसभा में रूम मिला  है।अतीत में हुड्डा व मनोहर सरकारों में जब  मुख्य  सचेतक सत्ता पक्ष व नेता विपक्ष संसदीय मंत्री  के रूप में पहली बार रूम मिलते रहे थे। लराज्य में अब तक चांदराम, डा. मंगलसेन,बनारसी दास गुप्ता, मा. हुकम सिंह और चंद्रमोहन बिश्नोई डिप्टी सीएम रह चुके हैं।हरियाणा विधानसभा में स्पीकर,मुख्यमंत्री, सचेतक सत्ता पक्ष,संसदीय मंत्री,नेता प्रतिपक्ष को ऑफिस दिए जाने की व्यवस्थाएं फिलहाल हैं।हुड्डा सरकार में संसदीय मंत्री  के रूप में पहली बार रूम रणदीप सिंह सुरजेवाला को व भ ज पा सरकार में मुख्य  सचेतक सत्ता पक्ष व नेता विपक्ष को बैठने के लिये ऑफिस पहली बार मिला था।।हरियाणा विधानसभा में चर्चायों के अनुसार भवन के अधिकांश भाग पर पंजाब विधानसभा का कब्जा है।हरियाणा गठन के वक्त पंजाब व हरियाणा विधानसभा को भी 60 व 40 प्रतिशत के अनुपात में बांटने की बात हुई थी।

जे जी पी ने हरियाणा सरकार बनते ही प्रथम विधानसभा सत्र से पहले  लिखे पत्र में हरियाणा विधानसभा में उपमुख्यमंत्री के लिए एक ऑफिस तैयार करवाने के लिए पत्र लिखा था।सूत्रों के अनुसार जे जी पी के लेटरपैड पर विधानसभा हरियाणा पत्र में लिखित रूप से इस बारे कहा गया था।हरियाणा में अतीत में रहे किसी भी उपमुख्यमंत्री द्वारा इस प्रकार की मांग कभी विधानसभा से नही की गई इसलिए विधानसभा में उपमुख्यमंत्री का रूम भी अतीत में नही था।


Isha

Related News