जेजेपी विधायक बोले- कानून वापसी की गारंटी लो मैं इस्तीफा देने को तैयार

1/18/2021 12:52:22 PM

चंडीगढ़ (धरणी): नरवाना हमेशा से हरियाणा की एक वीआईपी सीट मानी जाती रही है। क्योंकि यहां से न केवल प्रदेश स्तर के बल्कि केंद्रीय स्तर के नेताओं ने भी जीत हासिल की है। पूर्व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवी लाल के पुत्र ओम प्रकाश चौटाला ने यहां से चुनाव जीतकर मुख्यमंत्री का पद संभाला था। वहीं कांग्रेस के केंद्र स्तर के नेताओं में शुमार रणदीप सुरजेवाला के पिता शमशेर सिंह सुरजेवाला भी यहीं से चुनाव जीतकर प्रदेश के मंत्रिमंडल में स्थान बनाया था। हमेशा से माना जाता रहा है कि जींद जिले की हवा पूरे प्रदेश में असर डालती है। किसान बाहुल्य इस सीट पर आज जेजेपी का कब्जा है और उनके यहां के विधायक रामनिवास सुरजाखेड़ा खादी बोर्ड के चेयरमैन हैं। जिनके इस्तीफे की चर्चाएं पूरे प्रदेश में थी। उस पर उन्होंने पूर्ण विराम लगा दिया है। उनके सात पंजाब केसरी से हुई बातचीत के कुछ अंश प्रस्तुत हैं:-

प्रश्न:- आप किसानों के साथ खड़े हैं या नहीं ?
उत्तर:- शत-प्रतिशत मैं किसानों के साथ हूं। हमारे मुख्यमंत्री, उप-मुख्यमंत्री और पूरी सरकार किसानों के हितों की बात कर रहे हैं।

प्रश्न:- किसानों द्वारा दिल्ली घेराव को लेकर आपका क्या स्टैंड है ?
उत्तर:- किसान देश का अन्नदाता है। हमारा देश कृषि प्रधान देश है। मैं भी किसान हूं और किसान भाई बड़े शांति प्रिय ढंग से आंदोलन कर रहे हैं और सरकार भी खुले दिल से उनसे बातचीत कर रही है

प्रश्न:- बारिश, ठंड, ओलावृष्टि जैसे भयंकर मौसम में 60 से ज्यादा किसान अपनी जान गवां चुके हैं। इसे लेकर क्या कहेंगे ?
उत्तर:- हमारे किसान भाइयों ने इस आंदोलन में बलिदान दिए हैं। बहुत से किसान शहीद हुए हैं। सरकार निरंतर आंदोलन के समाधान में लगी हुई है। ठंड में बच्चे, महिलाएं, बुजुर्ग बैठे हैं और मुझे उम्मीद है कि उनकी मेहनत सफल होगी और जल्द ही जल्द इस आंदोलन का समाधान निकल जाएगा।

प्रश्न:- क्या आपने मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री से किसानों की वकालत की है ?
उत्तर:- हमने मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री से बातचीत की है। यह देश का आंदोलन है और वह भी इसके जल्द समाधान के लिए प्रयासरत हैं।

प्रश्न:- कुछ जेजेपी विधायक जो कि चेयरमैन हैं उनके इस्तीफे को लेकर काफी चर्चाएं हैं। इसमें कितनी सच्चाई है ?
उत्तर:- यह झूठी अफवाह है। इस्तीफा देने वाली कोई बात नहीं है। साथ ही यह मामला प्रदेश सरकार का नहीं केंद्र सरकार का है। हमारे इस्तीफे से अगर किसान का भला होता हो, कानून चेंज होने की गारंटी होती हो तो मैं अभी इस्तीफा दे दूंगा। नरवाना विधानसभा पिछले 15 साल मे बहुत पिछड़ गया है। इस सरकार में अब कुछ काम होने लगे हैं।

प्रश्न:- नरवाना प्रदेश की राजनीति का गढ़ रहा है। ओम प्रकाश चौटाला और शमशेर सुरजेवाला सरीखे नेताओं ने वहां से चुनाव जीते हैं ?
उत्तर:- यह बात सही है सभी 90 विधानसभाओं में से नरवाना राजनीति का हब है। किसान बाहुल्य क्षेत्र है। वहां से स्वर्गीय शमशेर सिंह सुरजेवाला चुनाव जीते और कई विभागों के मंत्री रहे। वहीं ओम प्रकाश चौटाला भी वहां से जीतकर मुख्यमंत्री बने। यह सच है कि नरवाना की लहर पूरे प्रदेश में चलती है।

प्रश्न:- ट्रैक्टर पर सवार है इनेलो इस पर आपकी क्या टिप्पणी है ?
उत्तर:- इनेलो हो या कांग्रेस यह गलत बात है। यह सरकार और किसानों के बीच की बात है। यह लोग अपनी राजनीति चमकाने में लगे हैं। कोई इस्तीफा दे रहा है, ट्रैक्टर पर चल रहा है तो कोई आंदोलन को भड़का रहा है। सरकार लगातार किसानों से बात कर रही है। कहीं ना कहीं जल्द समझौता भी हो जाएगा।

प्रश्न:- विधानसभा स्पीकर को अभय चौटाला ने अपना इस्तीफा भेजा है क्या कहेंगे ?
उत्तर:- मुझे सबसे पहले यह बात समझ में नहीं आती कि 26 के बाद ही इस्तीफा क्यों देंगे। बाकी यह उनकी निजी राय है और निजी जीवन है।

प्रश्न:- 26 जनवरी को किसान दिल्ली में ट्रैक्टर मार्च करेंगे आपका क्या मानना है कि क्या उनको ऐसा करना चाहिए ?
उत्तर:- हमारे प्रजातांत्रिक देश में हर व्यक्ति को आंदोलन का अधिकार है। मुझे लगता नहीं कि वह ऐसा करें। क्योंकि हमारे देश के प्रधानमंत्री और कृषि मंत्री और प्रदेश के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री 26 से पहले ही इसका कोई न कोई हल किसानों के पक्ष में निकाल लेंगे। इसलिए ऐसी नौबत नहीं आएगी।

प्रश्न:- नरवाना के विकास को लेकर 2021 में आपका क्या रोड मैप है ?
उत्तर:- नरवाना में शिक्षा और चिकित्सा की बहुत जरूरत है। अस्पताल हैं लेकिन उसमें मशीनरी नहीं है। हमारी मुख्यमंत्री से सोमवार को मीटिंग के दौरान बात हुई। जिसमें मशीनों और डॉक्टरों के लिए हमने निवेदन किया था। महिला नर्सिंग कॉलेज की बात हुई, महिला कॉलेज की हमने डिमांड की। मुख्यमंत्री ने हमारी सभी बातें मान ली। इसके साथ ही हमारे शहर में साफ-सफाई, सीवरेज की व्यवस्था को लेकर मास्टर प्लान बना लिया गया है। पीने के पानी की बहुत अधिक परेशानी थी हर गांव में पानी उपलब्ध करवाने की हमारी मांग को मुख्यमंत्री जी ने मंजूर कर लिया है।


vinod kumar

Related News