प्रॉपर्टी डीलिंग करने वाले हुड्डा पिता-पुत्र मनोहर लाल से मांग रहे कर्ज का हिसाब : सुदेश कटारिया

punjabkesari.in Wednesday, Nov 30, 2022 - 02:42 PM (IST)

चंडीगढ़(चंद्रशेखर धरणी): हरियाणा भाजपा के प्रवक्ता सुदेश कटारिया ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और उनके सांसद बेटे दीपेंद्र सिंह हुड्डा पर राजनीतिक हमला बोला है। सुदेश कटारिया ने कहा कि कांग्रेस राज में पूरे समय प्रॉपर्टी डीलिंग करने वाले लोग मुख्यमंत्री मनोहर लाल से प्रदेश पर कर्ज बढ़ने का कारण पूछ रहे हैं। कटारिया ने कहा कि बढ़ता कर्ज प्रदेश के विकास का सूचक होता है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अपने आठ साल के कार्यकाल में राज्य के ढांचागत विकास पर जोर दिया है। पूरे प्रदेश में सड़कों का बड़ा जाल बिछाया गया है। नए कॉलेज, आईटीआई, एजुकेशन इंस्टीट्यूट और तकनीकी दक्षता केंद्र खोले गए हैं, जिसका मतलब स्पष्ट है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा दिन दुगनी रात चौगुनी तरक्की कर रहा है।

 

भाजपा प्रवक्ता ने भूपेंद्र हुड्डा को जवाब देते हुए कहा कि कोरोना काल में जब पूरे देश और प्रदेश की अर्थव्यवस्था पटरी से नीचे उतर गई थी, उस दौर में भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा के लोगों को कोई परेशानी नहीं होने दी। कोरोना काल में हुए राजस्व के नुकसान के बाद भरपाई करने की मंशा ने केंद्र सरकार ने राज्यों को सकल घरेलू उत्पाद का 25 से 30 प्रतिशत तक कर्ज लेने की छूट प्रदान कर दी थी, लेकिन मुख्यमंत्री ने अपने वित्तीय प्रबंधन का शानदार उदाहरण पेश करते हुए न तो अधिक कर्ज लिया और न ही कर्ज लेने की सीमा को पार किया है, बल्कि अधिकतर कर्ज लेने की सीमा से काफी नीचे रहते हुए पूरी वित्तीय अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने का काम किया है।

 

पंचायत चुनाव में भाजपा की हार पर सांसद दीपेंद्र हुड्डा की टिप्पणी का जवाब देते हुए सुदेश कटारिया ने कहा कि कांग्रेस अभी तक आदमपुर में मिली करारी हार का गम भुला नहीं पाई है। पंचायत चुनाव में कांग्रेस पहले ही भाग खड़ी हुई थी। उसने कोई चुनाव पार्टी सिंबल पर नहीं लड़ा। भाजपा का पंचायत चुनाव में प्रदर्शन सबसे बढ़िया रहा है। राज्य में चूंकि भाजपा की सरकार है और गांवों के विकास कार्यों के लिए धन की जरूरत है, जो मुख्यमंत्री मनोहर लाल दिल खोलकर प्रदान करेंगे, इसलिए पूरे प्रदेश के अधिकतर जिलों में जिला परिषदों के चेयरमैन भाजपा और भाजपा की विचारधारा के लोग ही बनने वाले हैं। असली मंथन तो कांग्रेस को करने की जरूरत है। आदमपुर के नतीजों के बाद भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने उनका मंथन करने का साहस नहीं जुटा पाया था। अब उनके बेटे दीपेंद्र हुड्डा पंचायत चुनाव में कांग्रेस द्वारा सिंबल पर चुनाव नहीं लड़ने का मंथन करने का साहस नहीं जुटा पा रहे हैं।

 

भाजपा प्रवक्ता सुदेश कटारिया ने आम आदमी पार्टी के नेताओं को कुएं के मेंढक बताते हुए कहा कि दिल्ली में स्कूलों व अस्पतालों की तुलना हरियाणा के स्कूलों व अस्पतालों से कर रहे हैं। दिल्ली उंगलियों पर गिनने लायक स्कूल, कॉलेज व अस्पताल है। वहां भी अरविंद केजरीवाल की सरकार बड़े-बड़े भ्रष्टाचार कर रही है। फिर तुलना हरियाणा से करने चले आते हैं। दिल्ली में जितने स्कूल और अस्पताल हैं, उतने तो हरियाणा के एक जिले में हैं। कटारिया ने कहा कि पंजाब में भगवंत सिंह मान की सरकार बनाकर लोग पछता रहे हैं। अब उन्हें अहसास हो रहा है कि पंजाब के लोगों ने कितनी बड़ी गलती की है।

 

सुदेश कटारिया ने कहा कि जो अरविंद केजरीवाल खुद को हरियाणा का बेटा बताते हैं, वह पंजाब से हरियाणा को उससे हिस्से का पानी दिलाने का साहस नहीं कर पाते तो उन्हें खुद को हरियाणवी कहलवाने का भी कोई हक या अधिकार नहीं है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में जल्दी ही पूरे राज्य में 24 घंटे बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित होगी और यमुनानगर में बिजली बनाने का प्लांट लगाया जाएगा। तृतीय श्रेणी की नौकरियों के लिए संयुक्त पात्रता परीक्षा का रिजल्ट 15 दिसंबर के आसपास आने की संभावना और अगले साल फरवरी में चतुर्थ श्रेणी की नौकरियों के लिए संयुक्त पात्रता परीक्षा होगी, जिसका मतलब साफ है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा में हुड्डा के समय में चल रहा नौकरी व तबादला उद्योग पूरी तरह से बंद कर दिया है।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Gourav Chouhan

Related News

Recommended News

static