गृह मंत्री अनिल विज से मिलने पहुंची महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी

8/11/2021 9:49:00 PM

चंडीगढ़ (धरणी): हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज से बुधवार को भारत की महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी मिलने के लिए उनके कार्यालय में पहुंची। इन महिला खिलाड़ियों में टीम की कप्तान रानी रामपाल, मोनिका, निशा, नवनीत कौर, नवजोत कौर, उदय, शर्मिला और नेहा शामिल थी। इसके अलावा टीम के साथ आए विधायक रामकरण काला भी उपस्थित थे। 

इस अवसर पर विज ने इन खिलाड़ियों को शॉल व मिठाई खिलाकर स्वागत किया। उन्होंने कहा कि ओलंपिक जैसी बड़ी खेल प्रतियोगिता में किसी टीम व खिलाड़ी का पहुंचना बहुत ही बड़ी बात हैं, क्योंकि ओलंपिक में जाने के लिए कई खिलाड़ियों की ख्वाहिशें होती हैं। उन्होंने कहा कि खेल में हार-जीत होती रहती है और खेल में इसका कोई महत्व नहीं होता है, महत्व इस बात का है कि ये कितने दमखम के साथ खेली हैं और इन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया।

उन्होंने कहा कि इन हॉकी खिलाड़ियों ने मैचों में दमखम, तकनीक, वैज्ञानिक सूझबूझ के साथ अपने खेल का प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि ‘खूब लड़ी मर्दानी, वो झांसी वाली रानी थी’। उन्होंने कहा कि मैच नहीं जीत पाए, लेकिन इन्होंने अपने खेल के बल पर पूरे देश को एक करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी हॉकी के खेल में अपनी रूचि दिखाई और एक खिलाड़ी को मैच के दौरान चोट लगने पर उस खिलाडी से बातचीत कर हौसला बढाने का काम किया। 

विज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शक्ति का स्रोत हैं और उनसे जो भी मिलता है उसमें शक्ति का संचार हो जाता है। उनका खेलों की तरफ पूरा ध्यान हैं इसलिए उन्होंने ‘खेलो इंडिया’ कार्यक्रम को शुरू किया हैं ताकि अच्छे खिलाड़ी तैयार हो सकें। 

हरियाणा हमेशा से ही खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करता आया हैं। हम खिलाड़ियों को ओलंपिक में स्वर्ण, रजत व कांस्य पदक विजेता को क्रमशः 6 करोड़, 4 करोड़ व 2.5 करोड़ और सरकारी नौकरी व एक प्लाट देते हैं। उन्होंने कहा कि ये भारतवर्ष में किसी भी राज्य से सबसे ज्यादा पुरस्कार राशि है।

उन्होंने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि ‘मैं मुख्यमंत्री का भी आभार व्यक्त करता हूं जिन्होंने इन हॉकी के खिलाड़ियों को 50-50 लाख रूपए देने की घोषणा की है’। उन्होंने महिला हाकी टीम की कप्तान रानी रामपाल के आग्रह का जिक्र करते हुए कहा कि इन्होंने जो मांगे रखी हैं उस संबंध में वे मुख्यमंत्री से बात करेंगें क्योंकि ‘वे एक अच्छे वकील हैं’।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vinod kumar

Related News

Recommended News

static