कोरोना की आड़ में बीमार व लाचार मुर्गों की सप्लाई के नैटवर्क का भंडाफोड़, 3 युवक गिरफ्तार

3/28/2020 12:47:57 PM

कलायत (कुलदीप) : कोरोना महामारी की आड़ में मुर्गा फार्म का कार्य करने वाले कुछ लोगों द्वारा मानवीय जीवन से खिलवाड़ करने का मामला सामने आया है। कोरोना संकट के दौरान घटी चिकन की मांग के कारण मुर्गे बेचने का कार्य करने वालों द्वारा इन्हें औने पौने दामों पर बेचा जा रहा है। जो लोग इनसे सप्लाई लेते हैं वे मुर्गों को सस्ते दामों पर खरीदकर मुनाफा कमाने की मंशा पाले हैं।

इस नैटवर्क को डी.एस.पी. विनोद शंकर द्वारा थाना प्रभारी बिलासा राम, नगर पालिका कार्यकारिणी सदस्य, सामाजिक कार्यकत्र्ताओं, मीडिया कर्मियों और अन्य कर्मियों के साथ की जा रही कलायत शहर की गश्त के दौरान छिन्न-भिन्न किया। जिस दौरान गश्त का काफिला स्थानीय डाकखाना की गली के पास पहुंचा तो सामने से मोटरसाइकिल पर सवार 3 युवा हड़बड़ा गए। संदेह होने पर डी.एस.पी. ने पुलिस टीम को मोटर साइकिल सवारों को रोकने के निर्देश दिए।

त्वरित कार्रवाई करते हुए 3 युवकों को दबोच लिया गया।  पूछताछ की गई तो तीनों युवकों का नैटवर्क एक-दूसरे के साथ जुड़ गया। पुलिस ने वाहनों को जब्त कर कार्रवाई शुरू कर दी है।इसके अलावा डीएसपी ने कड़ा रुख अपनाते हुए गश्त के दौरान कई अन्य वाहन चालकों के नियमों के विरुद्ध सड़क पर आने पर चालान किए।

औने-पौने पर बेचे जा रहे मुर्गे
मुर्गा फार्मों पर इन दिनों मुर्गों को मांग के अनुरूप खाद्य सामग्री नहीं मिल पा रहा है। इसके चलते मुर्गे जहां मौत का ग्रास बन रहे हैं, वहीं बीमारी इन्हें घेर रही है। इस स्थिति में इस कारोबार से जुड़े कुछ लोग मुर्गों को औने पौने दामों पर बेचने की कवायद में लगे हैं। इस प्रकार की व्यवस्था से मानवीय जीवन को समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए पुलिस विषय को गंभीरता से ले रही है। 

2 मोटरसाइकिल सहित 2-3 युवक काबू
थाना प्रबंधक बिलासा राम ने बताया कि खाद्य सामग्री पर किसी प्रकार की रोक नहीं लगाई गई है। जो सामग्री मानवीय जीवन के लिए संकट पैदा कर सकती है वह सहन नहीं की जाएगी। इस मामले में 3 युवकों को खाली बोरी व कुछ दूसरे सामान के साथ काबू किया गया है। इनके दोनों मोटर साइकिलों को जब्त कर लिया गया है। 


Isha

Related News