‘भारत एक-भारतीय एक ’ का मूलमंत्र अपनाने की आवश्यकता : सोलंकी

Monday, March 20, 2017 12:58 PM
‘भारत एक-भारतीय एक ’ का मूलमंत्र अपनाने की आवश्यकता : सोलंकी

चंडीगढ़:हरियाणा के राज्यपाल प्रो.कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा कि जिस तरह से प्रदेश ने ‘हरियाणा एक-हरियाणवी एक ’ का नारा दिया है, उसी तरह आज ‘भारत एक-भारतीय एक ’ का मूलमंत्र अपनाने की आवश्यकता है। इसी संदेश के साथ भारत 21वीं सदी में पूरे विश्व में अपना डंका बजवाएगा। 

प्रो. सोलंकी पंचकूला में चल रहे 3 दिवसीय हरियाणा साहित्य संगम के समापन अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि जब भी मैं ऐसे कार्यक्रमों में जाता हूं तो अध्यापक की भूमिका में होता हूं, लेकिन आज विद्यार्थी की भूमिका में हूं। मुझे आज बहुत सी सूचनाएं मिली हैं और प्रोत्साहन मिला है। उन्होंने कहा कि कुछ कार्यक्रमों में मन प्रसन्न होता है तो कुछ बुद्धि को अच्छे लगते हैं, लेकिन आज के कार्यक्रम में आत्मा को संतुष्टि मिली है। राज्यपाल ने कहा कि इस साहित्य संगम में लगभग 5 हजार साहित्यकारों ने भाग लिया। यह कार्यक्रम हरियाणा स्वर्ण जयंती के अवसर पर प्रदेश को नई ऊंचाइयां प्रदान करेगा।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!