शहरी विकास की लापरवाही के कारण, पेयजल संकट से गुजर रहे शहर के नागरिक

9/17/2019 12:10:14 PM

गुडग़ांव (मनोज): नगर निगम और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकारण की लापरवाही के कारण शहर के नागरिक पेयजल संकट के दौर से गुजर रहे हैं। पेयजल सप्लाई बाधित होने की दशा में दोनों विभागों के कर्मचारी अपनी जिम्मेदारी एक दूसरे पर डालने लगते हैं। लापरवाही का ही प्रतिफल है कि आए दिन ककहीं ना कहीं पेयजल सप्लाई बाधित हो रही है और इसका खामियाजा शहर के नागरिकों को भुगतना पड़ता है।

ऐसी ही परेशानी का सामना सोमवार को लक्ष्मण विहार स्थित पंजीरी प्लांट स्थित बुस्टिंग स्टेशन से जुड़े लक्ष्मण विहार आदि इलाकों के नागरिकों को करना पड़ा। नागरिकों ने बताया कि बुस्टिंग स्टेशन की एक मोटर पिछले चार दिनों से खराब थी। इसकी सूचना क्षेत्र के नागरिकों ने वार्ड 10 के पार्षद शीतल बागड़ी के माध्यम से उसी दिन नगर निगम अधिकारियों को अवगत करा दिया।

वहीं इसकी जानकारी निगम के अधिकारियों को बुस्टिंग स्टेशन पर रहने वाले कर्मचारियों ने भी दी। इसके बावजूद चार दिन के अंदर समस्या का समाधान नहीं किया गया और लोड बढऩे के कारण सोमवार को बुस्टिंग स्टेशन की तीनों मोटरें जल गईं और सप्लाई पूरी तरह से बाधित हो गई।

इस बारे में लोगों को जानकारी नहीं थी। अचानक शाम को पानी की सप्लाई बाधित होने के कारण लोग अन्यत्र से भी रात को पानी नहीं मंगा पाए और उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ा। सूत्रों से जानकारी मिली कि अभी मंगलवार को भी सप्लाई बहाल होने में संदेह है। नगर निगम की इस लापरवाही को लेकर नागरिकों और पार्षद में रोष व्याप्त है। उनका कहना है कि नगर निगम के ऐसे मनमर्जी अधिकारियों के खिलाफ हर हालत में कार्रवाई होनी चाहिए। 


Isha

Related News