10वीं-12वीं के टॉपर हितेश्वर के घर लगा बधाइयों का तांता, बोला- IAS बनकर करना चाहता हूं देश की सेवा

punjabkesari.in Sunday, Aug 01, 2021 - 09:55 AM (IST)

चंडीगढ़ (चंद्रशेखर धरणी) : कामयाबी हाथों की लकीरों में नहीं-माथे के पसीने में होती है। जी हां, यह सच कर दिखाया है पंचकूला के  हितेश्वर शर्मा ने। दसवीं कक्षा के टॉपर हितेश्वर ने 12वीं कक्षा में भी देश में टॉप करके अपने बुलंद इरादे जगजाहिर कर दिए हैं। हितेश्वर की मेहनत, लगन और ठान लेने के जुनून ने ऐसा कर दिखाया है कि कामयाबी शब्द भी बहुत फीका-फीका सा दिखने लगा है। हितेश्वर की इस उपलब्धि पर शायद देश की हर मां यही कामना करती होगी कि काश हितेश्वर मेरा बेटा होता।

सीबीएसई बारहवीं कक्षा के परिणाम के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा जहां अपने निवास पर बुलाकर हितेश्वर व परिवार को शुभकामनाएं व आशीर्वाद दे चुके हैं। वहीं प्रदेश के राज्यपाल ने भी फोन करके परिवार को बच्चे की इस बड़ी उपलब्धि पर बधाई दी। तमाम ब्यूरोक्रेसी और मंत्रियों द्वारा भी हितेश्वर के पिता आशुतोष राजन को फोन पर बधाइयां दी जा रही हैं। बता दें कि हितेश्वर के पिता हरियाणा एक्साइज विभाग के ज्वाइंट कमिश्नर के पद पर कार्यरत हैं। इस खुशी के अवसर पर हरियाणा विधानसभा के स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता भी पंचकूला मेयर कुलभूषण के साथ हितेश्वर के निवास पर पहुंचे। इनके पहुंचने पर जहां परिवार गदगद हो गया।

वहीं विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने हितेश्वर को पुष्पगुच्छ और मिठाई देकर हौसला अफजाई की। इस मौके पर पंजाब केसरी से बातचीत के दौरान ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि यह बड़े गौरव की बात है कि पंचकूला के इस बेटे ने पूरे भारतवर्ष में नंबर एक पोजीशन हासिल करके प्रदेश का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि मैं कामना करता हूं यह बच्चा और आगे बढ़कर देश का नाम रोशन करें। समाज की सेवा का भाव इस बच्चे के मन में है, यह अपने सपने पूरे कर सकें।

ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बच्चे को आशीर्वाद दिया, जिस प्रकार से उन्होंने बच्चे की प्रतिभा को पहचाना तथा उसका सम्मान किया। बच्चे से बातचीत की उससे बच्चे के मनोबल में बहुत वृद्धि हुई और इस बच्चे का उत्साह बढ़ा है। उसी के परिणाम स्वरूप आज हमारा बेटा हितेश्वर पूरे देश में नंबर वन पर आया है। उन्होंने बताया कि उनका शुरू से यह प्रयास रहा है कि पंजाब यूनिवर्सिटी में जो हरियाणा प्रदेश का हिस्सा था। वह हिस्सा रिस्टोर किया जाए। प्रदेश में पंचकूला को शिक्षा हब बनाने के लिए यहां अलग से जमीन चिन्हित की जा चुकी है।हमारे मुख्यमंत्री द्वारा बहुत सी योजनाएं पंचकूला को पर्यटक स्थल और शिक्षा का हब बनाने के लिए की गई हैं। कुछ समय में ही हम पंचकूला को शिक्षा का हब बना देंगे।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static