सड़क हादसे में कार में जिंदा जले 3 छात्र, एनएचएआई के प्रोजेक्ट अधिकारी पर मामला दर्ज

punjabkesari.in Thursday, Jun 23, 2022 - 07:59 PM (IST)

सोनीपत(राम सिंहमार): मेरठ-झज्जर नेशनल हाईवे पर सोनीपत के नजदीक सड़क हादसे में पत्थरों के बेरिकेड्स पर एक कार टकराने के चलते कार में आग लग गई। इस हादसे में 3 मेडिकल छात्रों की मौत हो गई और तीन गंभीर हालत में रोहतक के पीजीआई में उपचारधीन हैं। इस मामले में परिजनों की शिकायत पर एनएचएआई और गावर कंपनी के अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज हो गया है। पीड़ित परिवार ने एनएचआई के प्रोजेक्ट अधिकारी और कई अन्य के खिलाफ सुरक्षा नियमों की अवहेलना करने का मामला दर्ज करवाया है।

गाड़ी में आग लगने से जिंदा जल गए थे तीन छात्र

नेशनल हाईवे पर सड़क कार्य चलने के दौरान सुरक्षा नियमों की अवहेलना के चलते लगातार हादसे हो रहे हैं।  पिछले दिनों मुरथल के  टोल के नजदीक हुए सड़क हादसा में एक की मौत हुई थी। अब एक बार फिर मेरठ झज्जर हाईवे पर एनएचआई और कंपनी की लापरवाही के चलते एक और गाड़ी हादसे का शिकार बन गई जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई। पुलिस जानकारी के मुताबिक हाईवे पर रोड के बीचो बीच भारी पत्थर लगाए गए थे। इसके चलते एमबीबीएस के छात्रों की गाड़ी पत्थरों के बेरिकेड्स से टकरा गई और मौके पर गाड़ी में आग लग गई। गाड़ी में आग लगने से 3 छात्रों की गाड़ी में जलकर मौत हो गई। वहीं 3 छात्र घायल अवस्था में रोहतक पीजीआई में रेफर किए गए थे।

परिजनों का आरोप, रिफ्लेक्टर टेप या रोड़ डायवर्जन जैसी नहीं थी सुविधा

PunjabKesari

इस मामले में पीड़ित परिवार के लोगों ने आरोप लगाया है कि हाईवे पर रिफ्लेक्टर, पेंट, चिन्ह, मार्का, रोड़ डायवर्जन, या ब्लिंकर लाइट जैसी कोई भी सुविधा नहीं दी गई थी। जिसके चलते दर्दनाक हादसे में तीन एमबीबीएस के छात्रों की आग में जलने से मौत हो गई। पीड़ित परिवार ने एनएचआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आनंद सिंह दहिया और गावर कंपनी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। परिवार ने मृतक रोहित, पुलकित और संदेश की एक्सीडेंट में मृत्यु को लेकर  एनएचआई अधिकारी आनंद सिंह और कंपनी को जिम्मेदार ठहराया गया है।

परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच कर रही पुलिस

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्हें मौके पर सूचना मिली थी जहां सूचना के दौरान गाड़ी में आग लगी हुई थी और गाड़ी में तीन युवकों की जलकर मौत हो गई थी। वहीं तीन घायल रोहतक की पीजीआई में भर्ती करवाए गए हैं। उन्होंने बताया कि पीड़ित परिवार की शिकायत पर एनएचएआई के अधिकारी और गावर कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static