बुढ़ापा पेंशन की तरह ऐतिहासिक है निजी क्षेत्र में 75 फीसदी रोजगार आरक्षण कानून: दिग्विजय चौटाला

9/20/2021 8:35:22 AM

चंडीगढ़(चन्द्र शेखर धरणी):  जननायक जनता पार्टी के प्रधान महासचिव दिग्विजय सिंह चौटाला ने जननायक स्व. चौधरी देवीलाल द्वारा बुजुर्गों के सम्मान में शुरू की गई बुढ़ापा पेंशन और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला द्वारा राज्य के युवाओं को रोजगार दिलाने की दिशा में  निजी क्षेत्र में 75 प्रतिशत रोजगार कानून को ऐतिहासिक बताया है। उन्होंने कहा कि डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने अपने परदादा चौ. देवीलाल के दिखाए रास्ते पर चलते हुए असंभव को संभव किया है। वे रविवार को सोहना के गांव निमोठ में जेजेपी नेता विनेश गुर्जर द्वारा आयोजित युवा-किसान सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। साथ ही दिग्विजय चौटाला ने कहा कि प्रदेश की बीजेपी-जेजेपी गठबंधन सरकार गरीब, युवा, किसान, महिला, बुजुर्ग, कमेरे समेत तमाम वर्गों के हित में कार्य करते हुए निरंतर प्रदेश को प्रगति के पथ अग्रसर कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा आज युवाओं की शिक्षा से लेकर रोजगार की व्यवस्था, किसानों के लिए मंडी व एमएसपी सिस्टम को मजबूती देने के लिए निरंतर कदम उठाए जा रहे है। 

जेजेपी प्रधान महासचिव ने कहा कि जब जननायक चौ. देवीलाल ने बुजुर्गों को 100 रुपए सम्मान पेंशन के तौर पर देने का वादा किया था तो कई बड़े नेताओं ने चौ. देवीलाल का मजाक उड़ाया था लेकिन दादा जी ने जनता से एक ही बात कही थी कि आप मेरे पर विश्वास रखना। दिग्विजय ने कहा कि जैसे ही चौ. देवीलाल सत्ता में आए तो उन्होंने अपनी कलम की ताकत दिखाते हुए बुजुर्गों को सम्मान पेंशन देते हुए असंभव को संभव किया। इसी तरह डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने भी राज्य के युवाओं को प्राइवेट क्षेत्र में 75 प्रतिशत रोजगार दिलाना का वादा निभाया है, जो कि ऐतिहासिक है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा निजी क्षेत्र में हरियाणा के लाखों युवाओं को रोजगार दिलाने की व्यवस्था की जा रही है और इस दिशा में आज प्रदेश में अमेजन, एटीएल, फ्लिपकार्ट, मारुति जैसी बड़ी कंपनियां निवेश कर रही है। इसी तरह प्रदेश सरकार द्वारा रोजगार पोर्टल, प्रदेशभर में रोजगार मेले लगवाने, आउटसोर्सिंग से जुड़ी सेवाओं में ठेका प्रथा बंद करने के लिए 'हरियाणा कौशल रोजगार निगम” जैसे कदम युवाओं के हित में है।  

दिग्विजय चौटाला ने कृषि क्षेत्र के विषय पर बोलते हुए कहा कि विपक्षी नेता एमएसपी व मंडी सिस्टम खत्म होने का भ्रम फैलाकर अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन बीते दो वर्ष में हरियाणा में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) व मंडी व्यवस्था और अधिक मजबूत हुई है। उन्होंने कहा कि जहां कांग्रेस शासित राज्य पंजाब में मात्र एक या दो फसलों पर एमएसपी किसानों को मिल रहा है लेकिन हरियाणा राज्य पूरे देश में सबसे अधिक 11 फसलों को एमएसपी पर खरीद रहा है। इसी तरह हाल ही में प्रदेश सरकार ने गन्ने का एमएसपी भी बढ़ाकर पूरे देश में सर्वाधिक किया है, जिसका लाभ प्रदेश के किसानों को मिलेगा।

दिग्विजय ने कहा कि हरियाणा सरकार ने किसानों की फसल खरीद व भुगतान को लेकर विशेष योजना के तहत काम किया ताकि फसल बेचने से लेकर भुगतान तक की प्रक्रिया को किसान के लिए और अधिक सुगम बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि इसका लाभ हमें कोरोना महामारी की पहली लहर के दौरान मंडियों में देखने को मिला था कि किसान को अपनी फसल बेचने में किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि फसल का भुगतान भी 72 घंटे के भीतर किसान के खाते में किया जाता है और इससे देरी होने पर 9 प्रतिशत ब्याज भी दिया जाता है। इसके अलावा नई मंडियां भी राज्य सरकार द्वारा बनाई जा रही है। 

जेजेपी प्रधान महासचिव ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा महिलाओं के सम्मान में पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं की 50 प्रतिशत की भागीदारी सुनिश्चित करना, प्रतियोगी परीक्षाओं के लिये जिले के 50 किलोमीटर के दायरे में परीक्षा केंद्र बनवाने, गांव से शराब के ठेके हटाने के लिए ग्रामसभा को अधिकार प्रदान करना, रजिस्ट्री प्रक्रिया का डिजिटलाइजेशन कर जनता के लिए प्रक्रिया को आसान बनाने जैसे अनेकों कदम आमजन के लिए उठाए है जो कि सराहनीय है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि हाल ही में टोक्यो ओलंपिक में दो प्रतिशत की आबादी वाले हरियाणा प्रदेश के युवाओं ने पूरे देश की मेडल टैली में 50 प्रतिशत मेडल जीतकर देश और प्रदेश का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार खेल को बढ़ावा दे रही है, खिलाड़ियों के प्रोत्साहन हेतु करोड़ों रुपए की पुरस्कार राशि, नौकरियों के प्रावधान व खिलाड़ियों के गांव में स्टेडियम की घोषणा कर प्रदेश के युवाओं को खेलों में और अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित किया है।

इस विशाल सम्मेलन में पार्टी के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंतराम तंवर, पूर्व डिप्टी स्पीकर आजाद मोहम्मद, राष्ट्रीय प्रचार सचिव दलबीर धनखड़, गुरुग्राम जिला प्रधान ऋषि राज राणा, नूंह जिलाध्यक्ष तैयब हुसैन, वरिष्ठ नेता बदरुद्दीन, सूबे सिंह बोहरा, योगेश हिलालपुर, सरपंच ओमप्रकाश, बिरेंद्र सरपंच, बेगराग घाटा, मनोज, सतीश, नरेश सहरावत, सतवीर लाकड़ा, फरीदाबाद ग्रामीण जिलाध्यक्ष तेजपाल डागर, राकेश भड़ाना, संदीप कपासिया, नागेश तेवतिया पलवल, कपिल झाड़सा सहित भारी संख्या में पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Recommended News

static