हरियाणा का हर तीसरा आदमी बेरोजगार, इसके लिए पूरी तरह गठबंधन सरकार दोषी: अभय चौटाला

6/10/2021 7:13:13 PM

चंडीगढ़ (धरणी): हरियाणा में बढ़ती बेरोजगारी पर इनेलो नेता अभय चौटाला ने प्रदेश सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि 12 मार्च 2021 को बजट सत्र में मुख्यमंत्री ने कहा था कि प्रदेश में 8.36 लाख बेरोजगार हैं, वहीं परसों पंचकूला में झूठ बोलते हुए कहा कि कि प्रदेश में केवल 5-6 लाख बेरोजगार हैं। मुख्यमंत्री ने 3 महीने में बिना रोजगार दिए 3 लाख बेरोजगारों की संख्या कम कर दी। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी ने भी हमारी बात पर मोहर लगाते हुए कहा है कि हरियाणा बेरोजगारी में नंबर वन है और हरियाणा का हर तीसरा आदमी बेरोजगार है। इसके लिए पूरी तरह गठबंधन सरकार दोषी है। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में 18 से लेकर 40 तक हर दूसरा युवा बेरोजगार है। प्रदेश सरकार का अनुमान है कि कॉमन एट्रेंस टेस्ट करीब 60 लाख टेस्ट में बैठेंगे। इसका मतलब साफ है कि सरकार खुद मान रही है कि 60 लाख युवा बेरोजगार हैं। डी ग्रुप भर्ती के दौरान करीब 25 लाख आवेदकों में से 18 हजार ही भर्ती हुए थे। प्रदेश में पिछले 7 साल में 40 लाख युवा एचटेट परीक्षा दे चुके हैं। सरकार ने इनसे 400 करोड़ रुपये इकट्ठे किए और अब सरकार कह रही है कि रोजगार नहीं है और अब तक करीब 10 हजार से ज्यादा सरकारी महकमों में नौकरी छीन चुकी है। 

अभय ने कहा कि सरकार जवाब दें कि प्रदेश की 30 हजार भर्तियां क्यों अटकी हुई हैं और 6 हजार से ज्यादा भर्तियां रद्द क्यों की। 90 हजार जेबीटी एचटेट पास युवा भर्ती निकलने का इंतजार लंबे समय से कर रहे हैं और टीजीटी संस्कृत शिक्षकों के साथ तो अमानवीयता और प्रताड़ना की सारी हदें सरकार ने पार कर दी हैं। टीजीटी गणित, पीजीटी फिजिक्स ने तो अब सरकार से भर्ती की उम्मीद ही छोड़ दी है। प्रदेश के युवाओं में हताशा और निराशा लगातार बढ़ती जा रही है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vinod kumar

Recommended News

static