मतदान के दिन मंदिर पहुंचे आप प्रत्याशी सतेंद्र सिंह, आदमपुर की परीक्षा के लिए लिया आशीर्वाद

punjabkesari.in Thursday, Nov 03, 2022 - 08:24 AM (IST)

आदमपुर(संदीप): आदमपुर उपचुनाव में मतदान की प्रक्रिया सुबह 7 बजे शुरू हो गई है। भाजपा प्रत्याशी भव्य बिश्नोई और इनेलो उम्मीदवार कुरड़ाराम नंबरदार परिवार संग मतदान केंद्र पर पहुंचकर वोट डाला। वहीं आप प्रत्याशी सतेंद्र सिंह ने सुबह-सुबह हनुमान मंदिर पहुंचकर माथा टेका। उन्होंने आदमपुर की सबसे बड़ी परीक्षा के लिए मंदिर में प्रार्थना की और भगवान का आशीर्वाद लिया। बता दें कि सतेंद्र सिंह सितंबर में ही आप में शामिल हुए थे।

 

PunjabKesari

 

आदमपुर में कब-कब हुआ उपचुनाव

 

बता दें कि आदमपुर के 56 साल के इतिहास में तीन बार उपचुनाव हो चुका है। खास बात यह है कि तीनों ही बार भजनलाल परिवार ने उपचुनाव में जीत हासिल की है। आदमपुर में सबसे पहला उपचुनाव साल 1998 में हुआ , जब तत्कालीन विधायक भजनलाल करनाल से लोकसभा सांसद चुने गए। तब उपचुनाव में भजनलाल के बेटे कुलदीप बिश्नोई ने जीत हासिल कर आदमपुर की राजनीति में कदम रखा। साल 2008 में भजनलाल को दल बदल कानून के चलते अयोग्य करार दिया गया। तब उन्होंने अपनी नई पार्टी हजकां से उपचुनाव लड़ा और कांग्रेस के रंजीत सिंह को 26,188 वोटों से हराया था। इसी प्रकार आदमपुर में तीसरा उपचुनाव साल 2011 में हुआ। दरअसल 3 जून 2011 को हिसार से लोकसभा सांसद रहते हुए चौधरी भजनलाल की मृत्य हो गई। तब उनके बेटे कुलदीप बिश्नोई आदमपुर से विधायक थे। कुलदीप बश्नोई ने विधायक पद से इस्तीफा देकर हजकां की सीट पर हिसार से लोकसभा उपचुनाव लड़ा और जीत गए। कुलदीप के इस्तीफे से खाली हुई आदमपुर सीट पर उनकी पत्नी रेनुका बिश्नोई ने उपचुनाव में किस्मत आजमाई। तब रेनुका ने कांग्रेस के कुलवीर सिंह को 22,669 वोटों से शिकस्त देकर आदमपुर में भजनलाल परिवार के जीत के रिकॉर्ड को बरकरार रखा था।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Gourav Chouhan

Related News

Recommended News

static