बैठक शुरू होने पर एजैंडा दिया तो भड़के सांसद बृजेंद्र सिंह ,अधिकारी बोलने- लगे सॉरी

punjabkesari.in Friday, Jul 01, 2022 - 10:04 AM (IST)

हिसार: डिस्ट्रिक इलैक्ट्रिसिटी कमेटी की बैठक में सांसद बृजेंद्र सिंह ने एजैंडा को लेकर अधिकारियों को फटकार लगाई और कहा कि यह बैठक करने का वाहियात तरीका है। यह एजैंडा बैठक से पहले क्यों नहीं भेजा गया। इस पर जब सांसद ने जवाब मांगा तो संबंधित अधिकारी सॉरी बोलने लगे। जिला परिषद के सी.ई.ओ. प्रीतपाल सिंह ने प्रशासन की ओर से खेद जताते हुए कहा कि भविष्य में ऐसी गलती नहीं होगी। तब जाकर सांसद शांत हुए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि भविष्य में मीटिंग से पहले उसका एजैंडा सांसद के पास पहुंच जाना चाहिए।

गौरतलब है कि वीरवार को हिसार के लघु सचिवालय परिसर स्थित सभागार में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक थी। इसके बाद सांसद की अध्यक्षता में डिस्ट्रिक इलैक्ट्रिसिटी कमेटी की बैठक रखी दी गई और उसी समय सांसद बृजेन्द्र सिंह को बैठक का एजैंडा दिया गया। बैठक में जब दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के अधीक्षक अभियंता एस.एस. राय ने निगम की योजनाओं और उपलब्धियों को गिनवाना शुरू किया तो सांसद ने उन्हें टोकते हुए कहा कि यह कौन-सा तरीका है! इस बैठक की सूचना और एजैंडे बारे क्यों नहीं बताया गया। पता नहीं आप लोगों के मन में क्या गलतफहमी है। अब एजैंडा देकर कह रहे हो बैठक कर लो। अगर पहले एजैंडा दिया होता तो उस पर कोई तैयारी की जाती और जनता से भी फीडबैक लिया जाता। निगम को लेकर जो शिकायतें आती हैं उस पर चर्चा होती। 

सांसद ने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि इस तरह से बैठक करने का कोई फायदा नहीं। एजैंडा जो दिया है उसमें 26 पेज हैं। इस तरह से आप ये सभी पेज पढ़ते रहोगे, हमें कुछ पता नहीं होगा। सांसद ने बिजली निगम अधिकारी से इस कमेटी के बारे में अन्य जानकारियां भी मांगी। निगम के अधीक्षक अभियंता ने म्हारा गांव-जगमग गांव, कुसुम योजना, किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाअभियान के तहत किए जा रहे कार्यों के बारे बताया।

सांसद बृजेंद्र सिंह ने बिजली समिति की बैठक में निगम के अधिकारियों को भारत सरकार द्वारा बिजली की गुणवत्ता को लेकर निर्धारित किए गए मापदंडों के अनुसार उपभोक्ताओं को बिजली आपूर्ति करने के निर्देश दिए। बिजली का वितरण एवं प्रबंधन सुचारू ढंग से करने की हिदायत देते हुए उन्होंने अधिकारियों को अपने अधीनस्थ क्षेत्रों में निगरानी रखने के भी निर्देश दिए हैं। 

समिति की बैठक में ट्यूबवैल कनैक्शन, लाइन लोसिज, बिजली चोरी पर अंकुश लगाने तथा बिजली से संबंधित शिकायतों का निपटारा शीघ्र करने के सम्बंध में शिकायत निवारण प्रणाली को प्रभावी ढंग से क्रियान्वित करने के भी निर्देश दिए। बैठक में लेफ्टिनैंट जनरल (सेवानिवृत्त) राज्यसभा सांसद डी.पी. वत्स, मेयर गौतम सरदाना नगर निगम आयुक्त राहुल हुड्डा, जिला परिषद के सी.ई.ओ. प्रीतपाल, बिजली निगम के कार्यकारी अभियंता बिजेंद्र लांबा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static