भारत बंद: हरियाणा में सड़कों और रेल ट्रैक पर किसानों का कब्जा, बाजार भी पूरी तरह बंद (देखें फोटो)

punjabkesari.in Friday, Mar 26, 2021 - 10:21 AM (IST)

हरियाणा (ब्यूरो): कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने आज संपूर्ण भारत बंद का आह्वान किया है। जिसका असर हरियाणा में दिखा रहा है। किसान रेल ट्रैक और सड़कों पर बैठ गए हैं। हर जिले में किसानों ने सड़कों को जाम कर दिया है। सड़कें जाम होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं भारत बंद को व्यापारियों का भी पूरी समर्थन मिल रहा है। दुकानदारों ने अपनी दुकानों को बंद रखा है।  

PunjabKesari, haryana

अंबाला में किसानों ने दिल्ली-अमृतसर व अमृतसर-दिल्ली सड़क व रेल मार्ग बंद कर दिए हैं। जिसके चलते भारी जाम भी रोड़ पर देखने को मिल रहा है। हालांकि किसान नेताओं ने जाम के दौरान परेशान हुए लोगों से माफी मांगी है और कहा उनके खाने पीने की व्यवस्था की गई है। वहीं इसको लेकर पुलिस की तरफ से भी पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। लोगों को दिक्कत न आए इसके लिए रुट डायवर्ट किए गए हैं, लेकिन जो लोग इस बन्द में फंस गए उनके लिए पुलिस कोई व्यवस्था नहीं कर सकी। पुलिस का कहना है प्रदर्शन शांतिपुर्ण है। एमरजेंसी सेवाओं को यह नहीं रोकेंगे। आगे जो आदेश होंगे उसे देखा जाएगा और कानून व्यवस्था न बिगड़े उसके पूरे इंतजाम हैं।

PunjabKesari, haryana

भारत आह्वान पर किसानों ने सोनीपत से गुजरने वाले नेशनल हाईवे 44 को जाम कर दिया है। इसके साथ केएमपी और केजीपी को भी किसानों ने बंद कर दिया है। हजारों की संख्या में हाईवे पर किसान मौजूद हैं। किसानों का कहना है कि भारत बंद में आम जनता किसानों का साथ दे। 

PunjabKesari, haryana

किसानों के भारत बंद को जींद के व्यापारियों ने पूरा समर्थन दिया है। दुकानों को पूरी तरह से बंद रखा है। जिले में 18 जगह किसानों ने जाम लगाया है। जींद-हिसार, जींद-पटियाला-दिल्ली, नरवाना-हिसार-चंडीगढ़, जींद-पानीपत समेत कई सड़कों को किसानों ने बंद कर दिया है। इसके साथ ही भारत बंद के चलते हरियाणा रोडवेज ने शाम 6 बजे तक अपनी बस सेवाएं बंद कर दी हैं।

PunjabKesari, haryana

भारत बंद ऐलान के चलते हरियाणा के यमुनानगर में किसान सुबह से ही रेलवे ट्रैक पर बैठ गए। जिसके चलते रेलगाड़ियों का आवागमन पूरी तरह ठप है। किसान रेलवे ट्रैक पर बैठकर सरकार विरोधी नारे लगा रहे हैं। वहीं जीआरपी व आरपीएफ ने सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए हैं। ताकि कोई भी कानून को अपने हाथ में ना लें। किसानों का कहना है कि जब तक तीनों कृषि कानून वापस नहीं लिए जाते तब तक आंदोलन जारी रहेगा। वहीं पुलिस अधिकारियों का कहना है कि रेलवे स्टेशन व रेलवे ट्रैक पर सुरक्षा के मद्देनजर फोर्स तैनात की गई है। उधर, बंद के कारण जहां आम जनजीवन प्रभावित हुआ है। 

PunjabKesari, haryana

भिवानी में आज भारत बंद का असर मिला जुला से दिखाई दिया है। कई ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों ने सड़क मार्ग पर जाम लगा दिया, तो कहीं-कहीं रेलवे को भी बाधित किया। भिवानी-दिल्ली रेलवे मार्ग पर ग्रामीणों ने रेलवे यातायात को प्रभावित करने के लिए वहां जाम लगा दिया। जिस पर रेलवे पुलिस मौके पर पहुंची और उन्होंने संगठन के नेताओं को समझाने का प्रयास किया।

PunjabKesari, haryana

संयुक्त किसान मोर्चा ने आज 12 घंटे के लिए भारत बंद का आह्वाहन किया हुआ है। एसेंशियल सर्विसेज को छोड़ कर किसानों ने देश भर को बंद करवाया गया है। इसी कड़ी में ऐलनाबाद के अधिवक्ताओं ने भी किसानों के  भारत बंद के इस आह्वान का समर्थन किया है। ऐलनाबाद बार एसोसिएशन ने आपात बैठक कर यह निर्णय लिया है कि अधिवक्ता न्यायालय प्रक्रिया में भाग नहीं लेंगे। किसी भी वादी व प्रतिवादी को अधिवक्ता द्वारा पेश न होने पर उसे न्याय प्राप्त करने में कोई नुकसान न हो इसके लिए बार एसोसिएशन ने अधिवक्ताओं का एक पैनल अधिकृत किया है, जोकि न्यायालय में सभी की तरफ से पेश हो कर न्यायालय से आज की तारीख में सुनवाई होने वाले वादों को आगामी डेट को निर्धारित करने के लिए न्यायालय से निवेदन कर डेट लेंगे।

PunjabKesari, haryana

भारत बंद का आज फतेहाबाद में जबरदस्त असर देखने को मिला। फतेहाबाद के सभी मुख्य बाजार पूर्णता बंद दिखाई दिए। दुकानदारों ने सुबह से ही अपनी दुकानें बंद रखी। आज सुबह बड़ी संख्या के अंदर किसान संगठनों से जुड़े लोग लाल बत्ती चौक के पास जुटना शुरू हो गए और फतेहाबाद दिल्ली हाईवे को जाम कर दिया। सैकड़ों की संख्या में एकत्र किसानों ने शहर में रोष मार्च निकाला और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए अपना विरोध प्रकट किया। वहीं जिले में दर्जनों स्थानों पर किसानों ने सड़क मार्ग को अवरुद्ध कर अपना रोष प्रदर्शन किया, बंद के दौरान आज रोडवेज का चक्का भी पूर्णतया बंद रहा। कहीं पर भी किसी प्रकार के वाहनों की आवाजाही नजर नहीं आई। हालांकि दोपहिया वाहन कहीं कहीं नजर आ रहे हैं, लेकिन बड़े वाहन कहीं नजर नहीं आए।

PunjabKesari, haryana

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vinod kumar

Related News

Recommended News

static