देह व्‍यापार का पर्दाफाश, पुलिस ने रेड मार कर 4 युवतियों समेत 7 काे किया गिरफ्तार

4/11/2020 3:52:12 PM

पानीपत(सचिन शर्मा): कोरोना वायरस के खौफ के बीच एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। मामले का पर्दाफाश हुआ तो पुलिस प्रशासन भी दंग रह गया। पानीपत में लॉकडाउन और कोरोना वायरस के बावजूद देह व्‍यापार का धंध चल रहा था। इसमें दूसरे प्रदेशों की युवतियां भी शामिल थीं। पुलिस ने चार युवतियां सहित सात लोगों को गिरफ्तार किया है।

शहर के पॉश इलाके सेक्टर 11-12 की हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में शुक्रवार देर शाम वेश्यावृत्ति रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है। थाना चांदनी बाग पुलिस ने रैकेट के मुखिया, चार युवतियों सहित सात लोगों को धर दबोचा। वार्ड 10 पार्षद रवींद्र भाटिया की शिकायत पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। लॉकडाउन के बावजूद मौके पर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। किसी तरह इन्हें वहां से हटाया गया।

वार्डवासियों ने बताया कि झारखंड, पलामू के चांपी खुर्द गांव के कबीर अंसारी ने कटारिया लैंड के पास म्यूजिक और डांस एकेडमी शुरू की है। यहां रोजाना अलग-अलग गाड़ियों में संदिग्धों का आवागमन लगा रहता था। हर रोज तीन-चार युवतियां दोपहर के समय आती और शाम होते-होते लोगों का आवागमन शुरू हो जाता।

शुक्रवार देर शाम उन्होंने एकेडमी को ताला लगाकर वार्ड पार्षद को सूचित किया। घटना की सूचना मिलने के लगभग एक घंटे बाद महिला थाना पुलिस आई, तब तक थाना चांदनी बाग पुलिस के दो कांस्टेबल गेट पर खड़े रहे। महिला थाना पुलिस के आने पर थाना चांदनी बाग पुलिस ने आरोपितों को काबू किया। कबीर के साथ मुख्य आरोपित हकीम और सितारगंज उत्तराखंड रवि चंद हैं।

पुलिस ने चार लड़कियों को पकड़ा है। चारों लड़कियां दिल्ली एयरपोर्ट के नजदीक किराये पर रहती थीं। वहीं से पानीपत आती थीं। शुक्रवार रात को पकड़ी गईं। इनमें एक फरीदाबाद, एक सिक्किम, एक कोलकाता और एक अरुणाचल प्रदेश की है।

हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में इस धंधे के पकड़े जाने का पता चलते ही ट्रांसपोर्ट यूनियन के कई दुकानदारों ने थाना चांदनी बाग पुलिस पर ही यूनियन में वेश्यावृत्ति कराने का आरोप लगाया है। यूनियन में रोजाना 20 से 30 महिलाएं देह व्यापार करती हैं। वहीं कुछ पुलिसकर्मी कार्रवाई के बजाय वहां पहरा देते है।

एकेडमी के आस-पास स्थित कई घरों के मालिक इस रैकेट से परेशान हो चुके थे। एकेडमी पर आने वाले लोग सड़क से गुजर रही महिलाओं को भी बुरी नीयत से देखते थे। इससे परेशान कुछ कॉलोनीवासियों ने घर तक बदलने की सोच ली थी। पड़ोसियों ने कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया। रैकेट संचालक भी पड़ोसियों को लॉकडाउन खुलते ही मकान खाली करने का वादा कर रहा था।

आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। तीन युवतियां और एक महिला रैकेट में संलिप्त पाई गई है। तीन अन्य युवकों को भी काबू किया है। शनिवार को सभी आरोपितों को अदालत में पेश किया जाएगा। गहनता से पूछताछ के लिए रिमांड लिया जाएगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

vinod kumar

Related News

Recommended News

static