जीजा की हत्या करने के लिए दी थी 20 हजार की सुपारी, पुलिस ने साले को किया गिरफ्तार

2021-06-14T17:50:45.317

टोहाना (सुशील): टोहाना के गांव फतेहपुरी में अपने साथी के साथ मिलकर जीजा की निर्मम हत्या के बाद गर्दन व धड़ को अलग करके नहर में फेंकने वाले आरोपी साले हरजिंदर को भी सदर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आरोपी को न्यायालय में पेश करके 1 दिन के पुलिस रिमांड पर लेगी। रिमांड के दौरान हत्या में प्रयोग की गई रस्सी व मोटरसाइकिल को बरामद किया जाएगा। 

इस बारे डीएसपी बीरम सिंह ने प्रेस वार्ता कर बताया कि 5 जून को गांव फतेहपुरी निवासी लाभ के भतीजे ने पुलिस को शिकायत दी थी, उसका चाचा संदिग्ध परिस्थितियों में घर से गायब हो गया है। जिसके बाद पुलिस ने गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी। पुलिस को सूचना मिली की एक 1 सिर कटी लाश पंजाब के मानसा जिले में नहर से बरामद हुई है,जब पुलिस ने जांच की तो उसकी पहचान लाभ सिंह के रूप में हुई। इसके बाद पुलिस ने उनके परिजनों के बयान पर मृतक के साले राजेंद्र के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी। 

पुलिस ने जांच को आगे बढ़ाते हुए गांव सिंबल वाला निवासी राजेंद्र को गिरफ्तार किया। जिसको पुलिस ने न्यायालय में पेश करके 2 दिन का रिमांड लिया। रिमांड के दौरान राजेंद्र ने बताया कि वह और हरजिंदर 2 जून को गांव फतेहपुरी में गए, जहां उन्होंने लाभ सिंह की गला घोट कर हत्या कर दी। हत्या करने के बाद लाभ सिंह को मोटरसाइकिल पर बिठाकर नहर के पास ले आए, जहां उसके गर्दन को कस्सी से अलग करके नहर में फेंक दिया।

डीएसपी ने बताया कि आरोपी हरजिंदर ने कबूल किया कि मृतक लाभ सिंह उसकी बहन से झगड़ा करता था, जिस वजह से उसने 20000 रुपये में राजेंद्र को लाभ सिहं की हत्या करने की सुपारी दी थी। उन्होंने बताया कि मृतक की गर्दन को नहर से बरामद किया है। अब इस मामले के दोनों आरोपी पुलिस गिरफ्त में है और जांच की जा रही है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vinod kumar

Recommended News

static