मुख्यमंत्री ने जताई इच्छा, खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 में प्रथम आए हरियाणा

punjabkesari.in Tuesday, May 10, 2022 - 08:52 PM (IST)

चंडीगढ़(धरणी): हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा कि खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। इन खेलों के लिए 25 दिन यानी 600 घंटे बाकी रह गए हैं। आज का यह कार्यक्रम सभी को संदेश देने के लिए है कि सभी को इन खेलों में भाग ले रहे खिलाडियों के उत्साहवर्धन के लिए आगे आना है. उन्होंने इच्छा जताई की हरियाणा के खिलाडी इन खेलों में भी प्रदेश को वैसे ही प्रथम लेकर आएं जैसे वह ओलंपिक्स और दूसरी आंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताएं में भी देश में सबसे आगे लेकर आते हैं। खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 में खिलाड़ियों सहित दर्शकों की अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए और विशेष तौर पर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में इंडिया यूथ गेम्स-2021 के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए मंगलवार को गुरुग्राम में प्रोमोशनल कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री श्री बनवारी लाल, खेल व युवा मामले राज्य मंत्री श्री संदीप सिंह, गुरुग्राम के उपायुक्त निशांत यादव, खेल एवं युवा मामले विभाग के अधिकारियों और खिलाड़ियों सहित कई गणमान्य उपस्थित रहे।

अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि इन खेलों के लिए देशभर से लोग आएंगे, जिससे यहां लघु भारत का दर्शन होगा। यह विशाल कार्यक्रम है, खेलों में 8500 से अधिक एथलीट्स भाग लेंगे। इसके अलावा लाखों दर्शक इन खेलों में शामिल होंगे। कार्यक्रम केवल पंचकूला में ही नहीं बल्कि चंडीगढ़, अंबाला, शाहाबाद और दिल्ली में भी होंगे। पूरे हरियाणा में इसके कार्यक्रम होंगे और पूरे हरियाणा के दर्शक इन खेलों को देखने पहुंचेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोग खिलाड़ियों के उत्साहवर्धन के लिए इन खेलों में पहुंचे, खासकर युवा खिलाड़ी ज्यादा संख्या में इन खेलों में शामिल हों। मुख्यमंत्री ने खेलों की मेजबानी का अवसर देने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया और कहा कि शायद यह पहला मौका है जब हरियाणा को इतना बड़ा अवसर मिला है। हम इन खेलों में अच्छी भूमिका निभाएंगे। हरियाणा इन खेलों में प्रथम आए यह मैं चाहता हूं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा की मिट्टी में खेल रचे बेस हैं। हमारे गांव-गांव में अखाड़े बने हैं, खेल मैदान हैं।  हमारे यहां 'दूध दही का खाना' जैसे कहावत हैं। यानि अच्छा खाओ और स्वस्थ रहो इसी को ध्यान में रखते हुए हमने डाइट मनी को 250 से बढ़ाकर 400 रुपए प्रतिदिन किया है। खेल के लिए सबसे पहले शरीर का बलशाली होना जरूरी है। खिलाड़ी शरीर को बलशाली बनाएगा और फिर अभ्यास करेगा तो अच्छा रिजल्ट आएगा। सरकार ने खिलाड़ियों के अभ्यास करने के लिए बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार किया है। पिछले वर्ष खेल इंफ्रास्ट्रक्चर पर 526 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें हरियाणा को खेलों का हब बनाना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे खिलाड़ियों ने ओलंपिक, पैरालंपिक सहित एशियन खेलों में बेहतर प्रदर्शन किया है। हमें इस बात का गर्व है कि हरियाणा खेलों में बहुत आगे है। देश दुनिया के लोग रिसर्च करने निकले हैं कि अंतरराष्ट्रीय खेलों में हरियाणा के इतने मेडल कैसे आए। उन्होंने कहा कि गुजरात का एक प्रतिनिधिमंडल 15 दिन तक हरियाणा में रहा जिसने खेल और खिलाड़ियों को लेकर जानकारी जुटाई। इसके अलावा अन्य प्रदेशों के लोग भी हरियाणा की खेल नीति के बारे में पूछते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में खिलाड़ियों को दी जाने वाली पुरस्कार राशि सबसे ज्यादा है। खिलाड़ियों के लिए क्लास वन से क्लास फोर तक के पदों की सीधी भर्ती में आरक्षण का प्रावधान किया गया है। उनके लिए खेल विभाग में 550 नए पद सृजित किए गए हैं। इसके अलावा, 156 खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी दी गई है। श्री मनोहर लाल ने कहा कि खिलाड़ी अपने विभागों में कर्मचारियों के बीच खेल को कैसे प्रोत्साहित करें इस पर फोकस रहना चाहिए। कर्मचारियों में खेल की भावना बनी रहेगी तो उनकी काम करने की क्षमता बढ़ेगी, मन अच्छा रहेगा और मस्तिष्क तेज होगा।

उल्लेखनीय है कि 7 मई को पंचकूला के इंद्रधनुष ऑडिटोरियम में शनिवार को खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के चौथे सीजन का शानदार और भव्य आगाज हुआ है। इस लॉन्च कार्यक्रम में खेलो इंडिया यूथ गेम्स का शुभंकर (मस्कट), लोगो, जर्सी और थीम गीत भी लॉन्च किया गया। लॉन्चिंग सेरेमनी में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। वहीं विशिष्ट अतिथि के रूप में केंद्रीय खेल, युवा मामले और सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री अनुराग ठाकुर भी शामिल हुए थे। 'खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021' का आयोजन 4 जून से 13 जून, 2022 तक राज्य सरकार और भारतीय खेल प्राधिकरण (साई), केंद्रीय युवा मामले एवं खेल मंत्रालय द्वारा संयुक्त रूप से किया जा रहा है। इस भव्य आयोजन में 25 तरह के खेल आयोजित होंगे, जिनमें पांच पारंपरिक खेल जैसे गतका, कलारीपयट्टू, थांग-ता, मलखंब और योगासन शामिल हैं। ये खेल पांच स्थानों पंचकूला, अंबाला, शाहाबाद, चंडीगढ़ और दिल्ली में आयोजित होंगे। खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 में 8500 से अधिक एथलीट्स भाग लेंगे। इसके अलावा लाखों दर्शक इन खेलों के गवाह बनेंगे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static