खतरनाक : 406 प्वाइंट पर पहुंचा प्रदूषण लैवल, सांस लेने लायक नहीं रही हवा

10/24/2020 2:05:48 PM

हिसार : मौसम में ठंड के साथ ही स्मॉग का खतरा भी बढ़ने लगा है। एक दिन में हवा में प्रदूषण का पी.एम. 2.5 लैवल 36 प्वाइंट व पी.एम. 10 लैवल 160 प्वाइंटस की बढौतरी के साख खतरनाक स्तर की ओऱ बढ़ गया। शुक्रवार को पूरे दिन सबसे लंबे समय तक हवा की गुणवत्ता निम्न श्रेणी की दर्ज की गई। शुक्रवार को पी.एम. 2.5 लैवल अधिकतम 407 व पी.एम., 10 लैवल 427 दर्ज किया गया है। बदलते मौसम के कारण ठंड बढ़ने से धूल प प्रदूषण के कण वायुमंडल में ही जमने शुरु हो गए है, जिसके कारण स्मॉग गहराता जा रहा है। अगर ऐसे ही हालात रहे तो सर्दी बढ़ने के साथ ही प्रदूषण लैवल  भी बीते साल की तरह रिकार्ड 600 के स्तर को पार कर सकता है। 

बीते एक सप्ताह में ही अधिकतम प्रदूषण लैवल 50 अंक तक बढ़ गया है। सामान्य दिनों में अधिनियम 166 तक रहने वाला पी.एम. 10  लैवल भी इन दिनों में 300 तक दर्ज किया हया है। पिछले साल इन्ही दिनों प्रदूषण की लैवल इस साल की बजाय कुछ कम था। 2019 में 23 अक्तूबर को 2.5 प्रदूषण लैवल 54,317 व पी.एम. 10 लैवल 111-350 तक था, जो इस साल  से 80 प्वाइंट तक कम था। 

पराली जलाले के मामले 3403  मामले आए सामने 
इस सीजन नें अभी  तक पूरे राज्य में पराली जलाने के फुल 3403 मामले सामने आए है, जिनमें से हिसार में 103 प्वाइंट डिडैक्ट किए गए। शुक्रवार को जिले में पराली जलाने के 4 नए मामले सामने आए है। वहीं पूरे राज्य में 101 जगहों पर पराली जलाने के घटानाएं सामने आई है। इसके अलावा अम्बाला में 416 फतेहाबाद में 253, जींद में 229, कैथल 588, करनाल में 695 व कुरुक्षेत्र में अभी तक 620 मामले सामने आए है। 

रात्रि तापमान में 2.29 डिग्री की आई गिरावट
हिसार में गौतम बदलाव के साथ रात्रि पारे में 2.6 डिग्री सल्सियस की गिरावट आ गई। यह 12.8 डिग्री सैल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 4 डिग्री सैल्सियस नीचे है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार दोपहर का पारा 34.8 डिग्री सैल्सियस  दर्ज किया गया। यह पारा सामान्य से 2 डिग्री सैल्सियस ज्यादा है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अगले 2 दिनों के दौरान मौसम में बदलाव रहेगा।  


Manisha rana

Related News