उपमुख्यमंत्री ने ‘पदमा’ पहल को लेकर विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की बैठक

10/14/2021 5:24:10 PM

चंडीगढ़(धरणी):  हरियाणा सरकार पूरे प्रदेश में एक-समान औद्योगिकरण करने के लिए नीति बनाने हेतु गंभीर प्रयासरत है। राज्य के 140 ब्लॉक खंड में 140 प्रोडक्ट उत्पाद को देश-विदेश में निर्यात करने की दिशा में कदम आगे बढ़ा रही है, इसके लिए सरकार ने ‘पदमा’ पहल शुरू की है जिसके तहत ‘वन ब्लॉक वन प्रोडक्ट’ को प्रोत्साहित किया जाएगा। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने आज ‘पदमा’ पहल को लेकर उद्योग एवं वाणिज्य, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन, एमएसएमई, विकास एवं पंचायत विभाग समेत अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की।

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने आज ‘पदमा’ पहल को लेकर उद्योग एवं वाणिज्य, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन, एमएसएमई, विकास एवं पंचायत विभाग समेत अन्य विभागों के वरिष्ठï अधिकारियों के साथ बैठक की। डिप्टी सीएम, जिनके पास उद्योग एवं वाणिज्य तथा विकास एवं पंचायत विभाग का प्रभार भी है, ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे ‘पदमा’ पहल कार्यक्रम को अंतिम रूप देने से पहले अन्य राज्यों की ग्रामीण उद्योग को प्रोत्साहन देने वाली नीतियों का अध्ययन करें ताकि हरियाणा सरकार द्वारा बनाई जाने वाली पोलिसी सर्वोत्कृष्टï बन सके।

उन्होंने कहा कि राज्य के कई गांवों में हूनरमंद लोगों द्वारा ऐसे गुणवत्तापरक प्रोडेक्ट तैयार किए जाते हैं जिनकी राष्टीय एवं अंतर्राष्टï्रीय स्तर पर अच्छी कीमत मिल सकती है लेकिन जानकारी के अभाव में उनको मजबूरी में लोकल लेवल पर कम दामों पर बेचना पड़ता है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की मंशा है कि प्रत्येक ब्लॉक में उस ब्लॉक के लोगों द्वारा उत्पादित बेहतरीन प्रोडक्ट के लिए एक कलस्टर बनाया जाए, जहां पर एमएसएमई की भांति लोगों को उद्योग लगाने के लिए प्लॉट उपलब्ध करवाए जा सके। इस कलस्टर में बिजली, पानी, सडक़, बैंक, कॉमन सर्विस सैंटर जैसी सुविधाएं मुहैया करवाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का प्रयास है वे इन छोटे उद्यमियों के प्रोडक्ट को बंड़ी कंपनियों के सहयोग से निर्यात करने में सहयोग किया जाए ताकि उनके प्रोडक्ट की अच्छी कीमत मिल सके।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Recommended News

static