अभय चौटाला के आरोपों पर दिग्विजय का पलटवार, बोले- दम है तो साबित करें आरोप

punjabkesari.in Sunday, Jul 03, 2022 - 08:21 PM (IST)

चंडीगढ़(चंद्रशेखर धरणी): इनेलो नेता अभय चौटाला ने जजपा प्रधान अजय चौटाला और बिजली मंत्री रणजीत चौटाला पर हाल ही में हुए नगरीय निकाय चुनाव में रूपए बांटने का आरोप लगाया है। इसी के साथ अजय चौटाला ने राज्यसभा चुनाव में भी कुछ विधायकों पर पैसै लेकर वोट देने का आरोप लगाया था। इन आरोपों पर पलटवार करते हुए जेजेपी प्रधान महासचिव दिग्विजय चौटाला ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। दिग्विजय चौटाला ने कहा कि अभय चौटाला राज्यसभा चुनाव में जिस प्रत्याशी पर हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप लगा रहे हैं, वो खुद उसी को वोट डालकर आए हैं। दिग्विजय ने कहा कि जिनके खुद के घर शीशे के हों, उन्हें दूसरों पर पत्थर नहीं उछालना चाहिए। एक बार को अगर अभय चौटाला के आरोपों को सही मान भी लिया जाए तो चुनाव में अभय चौटाला ने हॉर्स ट्रेडिंग करने वाले प्रत्याशी का ही साथ दिया है। दिग्विजय ने कहा कि गलत का साथ देने वाला व्यक्ति भी उतना ही दोषी होता है, जितना कि गलत करने वाला व्यक्ति। ऐसे में अभय चौटाला को अपने गिरेबान में झांक कर देखना चाहिए। उन्होंने कहा कि अभय चौटाला की हालत खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे जैसी है और उनके लगाए आरोप उनकी खिसक चुकी राजनीतिक जमीन की बौखलाहट है।

चर्चा में बने रहने के लिए ऐसे बयान दे रहे अभय चौटाला- दिग्विजय 

 दिग्विजय चौटाला ने कहा कि अभय चौटाला की राजनीतिक अपरिपक्वता से पूरा प्रदेश परिचित है और प्रदेशवासी उनके बयानों को मनोरंजन के उद्देश्य से लेते हैं। उन्होंने कहा कि जेजेपी को अभय चौटाला जैसे व्यक्ति से ईमानदारी के सर्टिफिकेट की कोई आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि जिस पार्टी का प्रदेश में एक विधायक हो, उसके विधायक को चर्चा में बने रहने के लिए इस प्रकार के बयान देना राजनीतिक मजबूरी है। उन्होंने कहा कि अगर अभय चौटाला के आरोप सही होते तो वह लोकतंत्र की हत्या के लिए ज्यादा बड़े गुनहगार हैं, क्योंकि उन्होंने यह सब जानते हुए निर्दलीय प्रत्याशी को वोट डाली है। 

आरोपों को साबित करने की चाचा अभय को दी चुनौती

दिग्विजय चौटाला ने कहा कि अभय चौटाला से कार्तिकेय शर्मा की जीत में जेजेपी की अग्रणी भूमिका भी बर्दाश्त नहीं हो रही।  इसलिए ऐसी बयानबाजी कर अपनी भूमिका बनाए रखने के प्रयास किए जा रहे हैं और वह अभय चौटाला को अपने आरोपों को साबित करने की खुली चुनौती देते हैं।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static