स्वास्थ्य सेवाओं की कमजोरी के चलते लोगों के सामने घोर संकट खड़ा हुआ : शैलजा

punjabkesari.in Monday, Apr 19, 2021 - 08:16 AM (IST)

चंडीगढ़ : हरियाणा कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कु. शैलजा ने कहा कि कोरोना संक्रमण को लेकर भाजपा-जजपा सरकार की नाकामी और लापरवाही से प्रदेशवासियों के सामने घोर संकट खड़ा हो गया है। अलग-अलग स्थानों से स्वास्थ्य सेवाओं के ध्वस्त होने की सूचनाएं आ रही हैं, वे दिल को झकझोर रही हैं। सरकार ने एक साल में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को मजबूत किया होता तो लोग अस्पताल, बैड, वैंटीलेटर, ऑक्सीजन और दवाइयों के लिए दर-दर न भटक रहे होते।

शैलजा ने कहा कि हरियाणा में कोरोना संक्रमण से हालात अत्यंत खतरनाक स्थिति में पहुंच चुके हैं। हालात इस कदर बिगड़ चुके हैं कि न मरीजों को बैड मिल रहे हैं, न वैंटीलेटर। ऑक्सीजन और जरूरी दवाइयों का भी बेहद अभाव है। बदइंतजामियों का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि अग्रोहा में बैड न मिलने के कारण कोरोना संक्रमित एक महिला ने दम तोड़ दिया है। बावजूद इसके सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने की तरफ बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे रही है।

उन्होंने कहा कि कोरोना के कहर ने सरकार के बड़े-बड़े दावों और बदइंतजामी की पोल खोल कर रख दी है। टैसिं्टग, ट्रैकिंग और ट्रेसिंग से खिलवाड़ ने स्थिति को और बिगाड़ दिया है। मौतों का आंकड़ा भी नई पीक की ओर बढ़ रहा है। हरियाणा में 9 दिनों में मौतों की संख्या रोजाना औसतन 17 प्रतिशत बढ़ी है। 9 दिनों में गंभीर मरीजों की संख्या दोगुनी होकर 500 हो गई है। शनिवार को 7,500 से ज्यादा कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने आए और 34 मरीजों को जान गंवानी पड़ी है।कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि सरकार आने वाली गंभीर स्थितियों से निपटने की अविलंब तैयारी करे और ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण पर जोर दिया जाए। साथ ही केंद्र को टीकाकरण के लिए प्राथमिकता पर पुनॢवचार करना चाहिए और टीकाकरण की आयु सीमा को घटाकर 25 वर्ष करना चाहिए।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static