हरियाणा के गृहमंत्री विज का स्पष्टीकरण- किसानों पर लाठीचार्ज हुआ ही नहीं जांच किस बात की?

9/18/2020 7:33:12 PM

अंबाला (अमन कपूर): हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने पीपली में किसानों पर बरसी लाठियों के मामले में स्पष्टीकरण देते हुए कहा है कि किसानों पर किसी तरह का लाठीचार्ज हुआ ही नहीं है तो इसकी जांच किस आधार पर की जाए? हरियाणा में लगातार किसानों के चल रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर विपक्ष द्वारा लगातार सरकार पर उठाए जा रहे सवालों पर का अनिल विज ने जवाब दिया। 

विज ने कहा कि न तो सरकार ने किसी किसान पर लाठी चार्ज किया है और न ही किसी तरह की जांच की जरूरत है। सरकार के स्पष्ट आदेश थे कि किसानों पर कोई लाठीचार्ज नहीं होगा। किसानों को अभी अध्यादेश समझ नहीं आ रहे और वह विपक्ष के बहकावे में हैं जब समझ आएंगे, तब यह आंदोलन खुद ही खत्म हो जाएगा। वहीं अनिल विज ने सुरजेवाला पर भी टिप्पणियां की।

विज ने कहा कि देश को आजादी 1947 में मिली जबकि किसानों को आजादी तो इन तीन अध्यादेशों के आने के बाद मिली है। यह अध्यादेश किसानों की तरक्की के लिए हैं। विपक्षी पार्टियां गुमराह कर रही है और कुछ लोग गुमराह हो भी जाते हैं। हमें उम्मीद है कि धीरे धीरे किसानों को पूरी बात समझ आ जाएगी और सब ठीक हो जाएगा।

हरियाणा में भाजपा की सहयोगी पार्टी जजपा के प्रदेशाध्यक्ष द्वारा किसानों पर हुए लाठीचार्ज के मामले में जांच की बात कही जा रही है, जिसपर अनिल विज ने एक बार फिर अपना पक्ष रखा और कहा कि जब लाठीचार्ज हुआ ही नहीं, तो जांच किस बात की। हम किसानों पर लाठीचार्ज क्यों करेंगे लाठीचार्ज। सरकार के साफ आदेश थे कि कोई लाठीचार्ज नहीं होगा और कोई लाठीचार्ज नहीं हुआ है।

रणदीप सुरजेवाला द्वारा हरियाणा प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही संबंधित किए गए ट्वीट पर अनिल विज ने कहा कि वह मुंगेरी लाल के हसीन सपने देख रहे हैं। मुंगेरी लाल के सपनों का क्या हाल होता था, उसका क्या हाल होता है वह सभी जानते हैं।

शराब घोटाले को लेकर अंबाला में की गई छापेमारी के बाद एक ठेकेदार के पकड़े जाने के बाद अनिल विज ने साफ कर दिया कि वह प्रशासन को स्पष्ट कर चुके हैं कि अवैध शराब बनाने वाला, बेचने वाला या फिर अवैध शराब का काम करने वाला कोई भी आदमी बचना नहीं चाहिए। एक एक आदमी की तलाश करें और उनपर कार्रवाई की जाए।

लगातार बढ़ रहे कोरोना मरीजों को लेकर हरियाणा के स्वास्थ्यमंत्री अनिल विज ने साफ कर दिया कि अभी तक लॉक डाउन की कोई जरूरत नही है। यदि हरियाणा में मरीजों की संख्या बढ़ रही है तो वही ठीक होने वाला का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। वहीं हरियाणा सरकार ने होम आईसोलेट लोगों की हर दूसरे दिन घर जाकर जांच करेगी और उन्हें दवाईयां देगी। वहीं हरियाणा में तीन कोरोना क्रिटिकल केयर सेंटर बनाए हैं। जोकि रोहतक, करनाल व अग्रोहा में यह सेंटर बनाए गए हैं। यहां पर हर तरह की सुविधाएं होगी और यहां पर 100 मरीजों के इलाज के लिए व्यवस्था की गई है।


Shivam

Related News