गूगल पर मिल रहा ठगी करने वाले कस्टमर केयर का नंबर

punjabkesari.in Friday, Jun 17, 2022 - 08:45 PM (IST)

गुड़गांव, (पवन कुमार सेठी) : साइबर क्राइम थाना पुलिस ने फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ करते हुए तीन ठगों को गिरफ्तार किया है। आरोपित कस्टमर स्पोर्ट के नाम पर यूएस समेत अन्य देशों के नागरिकों को ठगते थे। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से लैपटॉप, मोबाइल व ठगी के करीब 30 हजार रुपए भी बरामद किए हैं। पुलिस ने तीनों पर मामला दर्ज कर अदालत में पेश किया। जहां से आरोपियों को तीन दिन के रिमांड पर लेकर पूछताछ जारी है।

 

फर्जी ईमेल से करते ठगी:
पकड़े गए युवक विदेशी नागरिकों को अलग-अलग कंपनियों के नाम से फर्जी ईमेल भेजते थे। जिसमें फर्जी ग्राहक सेवा केंद्र का नंबर होता था। जिस पर फोन करने पर कॉल इस फर्जी कॉल सेंटर में रिसिव होती थी। कॉल आने पर ये खुद को कंपनी का कर्मचारी बताकर तकनीकी सहायता के नाम पर ग्राहक से गिफ्ट वाउचरों के माध्यम से धोखाधड़ी से पैसे ऐंठ लेते थे।  

गुरुग्राम की खबरों के लिए इस लिंक https://www.facebook.com/GurugramKesari पर क्लिक करें।


पुलिस से बचने के लिए विदेशियों से करते ठगी
पुलिस गिरफ्त में दिखाई दे रहे यह तीनों ठग 12वीं पास हैं। तीनों ने मार्च महीने में पालम विहार थाना क्षेत्र में एक फ्लैट 50 हजार रुपए प्रतिमाह पर किराए पर लिया था। यह विदेशी नागरिकों को इसलिए ठगते थे कि वह पुलिस को शिकायत न कर पाएं। यह रुपए वह गिफ्ट वाउचर के जरिए मंगाते थे।

 

एसीपी क्राइम का कहना:
एसीपी क्राइम प्रीतपाल सिंह का कहना है कि पुलिस ने तीनों युवकों को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया है। प्रारंभिक पूछताछ में सामने आए तथ्यों को वेरीफाई किया जाएगा। इसके साथ ही यह भी पता लगाया जाएगा कि मार्च से अब तक इन्होंने कितने लोगों को ठगा है और उनसे ली गई राशि कहां है। रिमांड के दौरान यह भी पता लगाया जाएगा कि आरोपियों ने पहले कितनी वारदातों को अंजाम दिया है।

 

गूगल से कस्टमर केयर सर्च नहीं करें:
एसीपी क्राइम प्रीतपाल सिंह ने लोगों से अपील की है कि वे कस्टमर केयर के लिए गूगल या किसी अन्य सर्च इंजिन पर सर्च न करे। कस्टमर केयर का नंबर केवल कंपनी या संस्था की अधिकारिक वेबसाईट से ही प्राप्त करे। कस्टमर केयर से  संबंधित प्राप्त होने वाली फर्जी ईमेल से सावधान रहें। इन फर्जी ईमेल मे दर्शाये गए नंबरों पर संपर्क न करे। यदि कोई व्यक्ति कस्टमर केयर सेंटर के नाम पर आपकी निजी या वित्तिय जानकारी जुटाने कि कोशिश करता है तो उनको ऐसी कोई जानकारी उपलब्ध न करवाए तथा तुरंत साइबर क्राइम ब्रांच या संबंधित थाना में संपर्क करके सूचना दें।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pawan Kumar Sethi

Related News

Recommended News

static