किसानों को ना मुआवजा मिल रहा, ना एमएसपी और ना ही खाद: हुड्डा

punjabkesari.in Friday, Nov 05, 2021 - 04:56 PM (IST)

चंडीगढ़(चन्द्र शेखर धरणी):  बीजेपी-जेजेपी सरकार में किसानों को एकसाथ मौसम, महंगाई और सरकारी अनदेखी का शिकार होना पड़ रहा है। आज किसानों को ना मौसम की मार से हुए नुकसान का मुआवजा मिल रहा है, ना फसलों की एमएसपी और ना ही बुआई के लिए खाद। बार-बार मांग करने के बावजूद सरकार संवेदनहीन व गैरजिम्मेदाराना रवैया अपनाए हुए है। ये कहना है पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा का। 

हुड्डा ने एकबार फिर सरकार का ध्यान किसानों की दुर्दशा की तरफ दिलाते हुए कहा कि पिछले दिनों सोनीपत जिले के गांव झरोठी, भदाना,ककरोई, खांडा,झरोठ,ओर आनंदपुर, कंवाली,रोहट,भोआपुर, खेड़ी दहिया,ओर नकलोई समेत प्रदेश के कई इलाकों हुई बेमौसमी बारिश, ओलावृष्टि और जलभराव से किसानों को भारी नुकसान हुआ। लेकिन अबतक किसानों को खराबे की एवज में कोई मुआवजा नहीं दिया गया।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि उन्होंने खुद पिछले दिनों जलभराव से प्रभावित कई क्षेत्रों का दौरा किया था। आज भी कई इलाकों में जलभराव की समस्या बनी हुई है। किसान और विपक्ष सरकार से कई बार गुहार लगा चुके हैं। लेकिन सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेंगती। 

हुड्डा ने कहा कि किसान की पिछली फसल या तो मंडी में बिना एमएसपी के पिट रही है या खेत में खड़ी-खड़ी बर्बाद हो चुकी है। वहीं, अगली फसल के लिए किसानों को खाद तक नहीं मिल पा रहा है। किसान मुआवजे और खाद के लिए एक दफ्तर से दूसरे दफ्तर चक्कर काट रहे हैं लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि सरकारी अनदेखी और मौसम की मार के साथ किसानों पर महंगाई की मार भी लगातार पड़ रही है। सरकार वैट में चंद पैसों की कटौती करके खूब ढिंढोरा पीट रही है। जबकि बीजेपी सरकार कांग्रेस की तुलना में जनता से दोगुने से भी ज्यादा वैट वसूल रही है। अगर सरकार सच में किसानों व आम जनता को महंगाई में थोड़ी राहत देना चाहती है तो उसे वैट की दर कांग्रेस सरकार जितनी करनी चाहिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static