बिजली चोरी मामले में 10 और आरोपितों पर एफआईआर, अब तक 44 पर दर्ज हो चुका है मुकदमा

8/4/2020 9:38:12 AM

फरीदाबाद (सुधीर राघव): यमुनापार फरीदाबाद जिले की सीमा में यूपी के ग्रेटर नोएडा के 44 फार्म हाउसों संचालकों द्वारा हरियाणा की बिजली चोरी करने के मामले में दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम (डीएचबीवीएन) शेष रहे 10 अन्य फार्म हाउस संचालकों के खिलाफ बिजली थाने में मामले दर्ज करवा दिया है। इससे पहले विभाग 34 फार्म हाउस संचालकों के खिलाफ मामला दर्ज करवा चुका था। वहीं फरीदाबाद पुलिस मामले की जांच कर रही है। बिजली निगम ने हरियाणा का एक और यूपी के 43 फार्म हाउस संचालकों पर सवा करोड़ रुपये रिकवरी निकाल जुर्माना लगाया है।

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों हिसार से आई टीम ने शहर में एक बड़े बिजली चोरी का खुलासा किया था। इसमें हरियाणा से यमुनापार ग्रेटर नोएडा की सीमा में बने कई फार्म हाउस को बिजली दी जा रही थी। इस दौरान टीम ने 11 केवी की लाइन से जुड़े 24 ट्रांसफार्मर भी पकड़े थे, जिससे बिजली आपूर्ति की जा रही थी। यह खेल साल 2014 से चल रहा था। निगम के एक अधिकारी ने बताया कि भूपानी पावर हाउस से 11 हजार वोल्टेज की बड़ी लाइन द्वारा यमुना पार बिजली पहुंचाई गई थी। जहां पर 24 ट्रांसफ ॉर्मर चलाए जा रहे थे।

चीफ इंजीनियर को सौंपी रिपोर्ट 
हिसार से आई टीम ने इसकी एक रिपोर्ट तैयार कर कानूनी कार्रवाई की अनुशंसा के लिए रिपोर्ट फरीदाबाद जोन के चीफ इंजीनियर केसी अग्रवाल को सौंपी है। जिसमें 200 किलोवाट लोड की चोरी किए जाने का हवाला दिया गया है। रिपोर्ट में आरोपियों पर करीब सवा करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया। बिजली चोरी के मामले में निगम ने अब 44 फार्म हाउस संचालकों के खिलाफ  बिजली एवं सिंचाई थाने में मामला दर्ज करवा कर कार्रवाई की अनुशंसा की है। 

डीएचबीवीएन  अधीक्षण अभियता नरेश कक्कड ने कहा कि हरियाणा की बिजली चोरी मामले में शेष रहे 10 और फार्म हाउस संचालकों के खिलाफ  मामले दर्ज करवाया गया है। अबतक कुल 44 के खिलाफ मामला दर्ज है जिसमें एक कंज्युमर फरीदाबाद का है बाकि सभी 43 ग्रेटर नोएडा के  पाए गए हैं। मामले में जल्द ही पुलिस आरोपितों की गिरफ्तारी कर सकती है।                 


Edited By

vinod kumar

Related News