पूर्व मंत्री अत्तर सिंह सैनी भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल, बोले- भाजपा की कथनी और करनी में अंतर

4/21/2021 9:27:04 AM

हांसी(संदीप): हांसी की राजनीति के इतिहास में रिकॉर्ड तोड़ मतों से जीत हासिल करने वाले पूर्व मंत्री अत्तर सिंह सैनी मंगलवार को भाजपा पार्टी को छोड़कर फिर से कांग्रेस में शामिल हो गए। गुरुग्राम में आयोजित एक कार्यक्रम में प्रदेशाध्यक्ष कुमारी शैलजा की मौजूदगी में कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए। पूर्व मंत्री पिछले कई दिनों से भाजपा के खिलाफ बगावती तेवरों में थे और लोगों के कयासों पर सच साबित करते हुए उन्हों ने पार्टी छोड़ने का ऐलान कर दिया। 

बता दें कि अत्तर सिंह सैनी 1996 में बनी चौधरी बंसीलाल की सरकार में मंत्री बने थे। उस चुनाव में उन्होंने रिकॉर्ड 51 हजार 767 वोट मिले थे। हांसी विधानसभा के इतिहास में इतने मत किसी उम्मीदवार को नहीं मिले हैं। इसके बाद हविपा का कांग्रेस में विलय होने के बाद वह लंबे समय तक कांग्रेस में रहे थे व इसके बाद इनेलो पार्टी का दामन थाम लिया था। साल 2018 में इनेलो पार्टी में दरार पड़ने के बाद वह भाजपा में शामिल हुए थे।

बीते दो चुनावों से उन्हें टिकट नहीं मिल पाई। पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में भी उनपर अंदरखाते स्थानीय भाजपा उम्मीदवार का विरोध करने के आरोप लगे थे। पार्टी लाइन से हटकर वह कई बार बयान दे चुके हैं और पिछले दिनों किसान आन्दोलन के समर्थन में रामायण टोल प्लाजा पर पहुंच गए थे। आखिर उन्होंने मंगलवार को भाजपा पार्टी का साथ छोड़ दिया व कांग्रेस में शामिल हो गए। उन्होंने कहा कि भाजपा की कथनी और करनी में अंतर है। उन्होंने कहा कि यह पार्टी समाज के शोषित तबकों के खिलाफ काम करती है। उन्होंने कहा कि किसान आन्दोलन को लेकर कई बार पार्टी के आलाकमान को संदेश पहुंचा चुके थे कि किसानों की मांग जायज है। वह करीब तीन साल तक भाजपा पार्टी में रहे।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


Content Writer

Isha

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static