बंधवाड़ी में हुई फायरिंग के चार आरोपी गिरफ्तार, प्लांट के टेंडर को लेकर हुआ था झगड़ा

punjabkesari.in Wednesday, Oct 14, 2020 - 09:44 AM (IST)

गुरुग्राम (मोहित) : गुरुग्राम के सेक्टर 17 में पुलिस ने बधवाड़ी डंपिंग स्टेशन के टेंडर को लेकर दो गुटों के बीच हुई फायरिंग मामले की गुत्थी को सुलझा दिया है जिसमें पुलिस ने गुरुग्राम फरीदाबाद रोड पर बने बंधवाड़ी डंपिंग स्टेशन के बाहर एक ही गांव के युवकों के बीच हुई 25 सितंबर की फायरिंग मामले में इस  पूरी वारदात को अंजाम देने वाले चार मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। यह चारों आरोपी डंपिंग स्टेशन के टेंडर को लेकर हुए झगड़े में फायरिंग कर वहां से फरार हो गए थे और फायरिंग के दौरान दो सगे भाइयों को गोली लगी थी जिनको  अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। पुलिस ने उसी समय  आईपीसी  307 के तहत मुकद्दमा दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी थी।   

जानकारी मुताबिक बता दें कि चारों युवकों ने डंपिंग स्टेशन के बाहर अपने ही गांव के कुछ युवकों के ऊपर अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी जिसमें इनके गांव के दो सगे भाई बुरी तरह गोली लगने से जख्मी हो गए थे। फायरिंग के नामजद मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इन चारों की पहचान माँगर निवासी के तौर पर हुई है। यह चारों युवक माँगर गांव के रहने वाले हैं। पुलिस इन चारों युवकों की 25 सितंबर से लगातार तलाश में थी। गुप्त सूत्रों की सहायता से जब पुलिस को इनकी जानकारी प्राप्त हुई तो गुरुग्राम सेक्टर 17 की पुलिस ने इनको धर दबोच लिया।

हालांकि पुलिस ने चारों युवकों को गिरफ्तार कर बड़ी कामयाबी हासिल की है मगर दिनदहाड़े इस तरह युवाओं के बीच हुए बंदूकों के माध्यम से खूनी संघर्ष ने कहीं ना कहीं पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए हैं क्योंकि जिस तरह यह युवक हथियारों के दम पर दो युवकों को जख्मी करने में कामयाब हुए तो सवाल यही उठता है कि आखिर युवाओं के हाथों में हथियार कहां से आए। 

 

  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Manisha rana

Related News

Recommended News

static