किसानों के डर से हरियाणा के कृषि मंत्री ने नहीं फहराया झण्डा, 10 जगह कार्यक्रमों में हुआ बदलाव

punjabkesari.in Tuesday, Jan 26, 2021 - 01:19 PM (IST)

रोहतक(दीपक): राष्ट्रीय पर्व से बढ़कर अपनी सुरक्षा के चलते भाजपा नेताओं ने नाक कटवा के रख दी, तो स्थानीय प्रसाशन ने झंडा फहराकर एन वक्त पर लाज बचा भी ली। किसान आंदोलन के चलते नेताओं के दिल मे डर ऐसा बैठा की अफरा-तफरी में करीब दस जगह कार्यक्रमों में बदलाव कर दिया। भाजपा नेताओं की जगह जिला प्रसाशन ने झंडा फहरा दिया। गौरतलब है कि किसान नेताओ ने गणतंत्र दिवस के पवन पर्व पर किसी भी भाजपा नेताओ को झंडा न फहरा देने की धमकी दी थी। इसी के चलते रोहतक में कृषि मंत्री जेपी दलाल ने झंडा फहराना था लेकिन डर के मारे कार्यक्रमो में बदलाव किया गया औऱ उनकी जगह स्थानीय प्रसाशन ने झंडा फहराया।

स्टेज पर बड़ी बड़ी ढिंग हाँकने वाले नेताओं के मन के इससे पहले कभी इतना भय शायद ही किसी ने देखा होगा। केवल अपनी सुरक्षा के चलते देश का सबसे बड़ा राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस के मौके पर निर्धारित स्थान पर नही पहुँचे। ऐसे में स्थानीय प्रसाशन ने बखूबी ज़िम्मेदारी संभालते हुए झंडा फहराया। ऐसे में किरकिरी होती देख नेताओं ने सेफ जगह देखकर कार्यक्रम में शिरकत की। हरियाणा की बात करे तो किसानों के डर से करीब दस जगह नेताओं ने कार्यक्रम में बदलाव किया है।

वहीं दूसरी ओर रोहतक उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने कहा कि नेताओं का न आना सरकार का फैसला है और ये एक राष्ट्रीय पर्व है इसे धूमधाम से मनाया जाना चाहिए, वहीं पुलिस सुरक्षा पर भी सवाल उठ रहे है जिसकी सफाई देते हुए रोहतक के एसपी राहुल शर्मा का कहना है कि पुलिस सुरक्षा को लेकर पूरी तह से तैयार थी  ।गौरतलब है कि किसान नेताओ ने गणतंत्र दिवस के पवन पर्व पर किसी भी भाजपा नेताओ को झंडा न फहरा देने की धमकी दी थी।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static