25 सितंबर से धान की खरीद के लिए अभी तक हरियाणा को केंद्र से नहीं मिली मंजूरी: पीके दास

9/17/2020 7:45:01 PM

चंडीगढ़ (धरणी): हरियाणा खाद्य एवं आपूर्त्ति विभाग के ए सी एस पी के दास ने कहा है कि 25 सितंबर से धान की खरीद के लिए अभी तक हरियाणा को केंद्र से मंजूरी नहीं मिली है। अगर यह मंजूरी नहीं आई तो 1 अक्तुबर से हरियाणा अपनी योजना के तहत धान की खरीद करेगा। जिन 8 जिलों में धान की आवक ज्यादा है, वहां से धान का एराइवल सीधा करवाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि जिन बड़ी चावल मिल्स को सरकार ने कुटाई के लिए धान देना स्वीकार किया है, उनके यहां सीधा धान उतारा जाएगा। उन्होंने यह भी बताया की किसानों का धान एमएसपी पर खरीदा जाएगा और आढ़तियों के माध्यम से ही यह खरीददारी होगी। जो 70 शैलर ब्लैक लिस्टिड हैं उन्हें धान कुटाई के लिए नहीं दिया जाएगा।

पीके दास ने बताया कि जो धान हम सीधे तौर पर खरीदेंगे उसकी आढ़तियों के जरिए ही खरीद की जाएगी। जबकि ट्रांसपोर्टेशन हम करेंगे। इस बार जो व्यवस्था की गई है उसमें माल की मंडी में खरीद करके उसे ट्रांसपोर्ट करके हम खुद मिल में पहुंचाएंगे। जहां मंडी में हमारा ट्रक लोड होगा वहां वीडियो ग्राफी भी की जाएगी। 

इसके अलावा मिलर के स्टॉक में पहुंचे माल की हम हर 15 दिन में एक बार पड़ताल करेंगे। वहीं इस बार मिलर्स को एक डेली लोग भी रखना होगा, जिसमें उसे रोजाना का हिसाब रखना होगा। मिलर को सरकारी स्टॉक के लिए अलग से एक स्टॉक रजिस्टर रखना होगा। जबकि अन्य स्टॉक के लिए अन्य स्टॉक रजिस्टर लगाना होगा। इसकी जानकारी मिलर की और से विभाग को भी देनी होगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से जल्दी खरीद के लिए आग्रह किया गया था। दास ने कहा कि खरीद के लिए इस दफा 200 के लागभग केंद्र बनाए गए हैं।


vinod kumar

Related News