करनाल: 8 लाख की लूट में हुआ बड़ा खुलासा, इनोवा का ड्राइवर ही निकला वारदात का मास्टरमाइंड

punjabkesari.in Wednesday, Aug 17, 2022 - 08:06 PM (IST)

करनाल: हरियाणा के करनाल में स्टेशन परिसर में 8 लाख रुपए से भरा बैग छीनने के मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस की डिटेक्टिव स्टाफ टीम द्वारा इनोवा चला रहे राहुल समेत कुल तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने 24.41 लाख रुपये की नगदी व वारदात में इस्तेमाल मोटरसाइकिल बरामद की है। फिलहाल पुलिस आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि वारदात में छीनी गई नगदी से तीन गुना ज्यादा कैश उनके पास कहां से आया। आरोपियों को गुरुवार को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा, ताकि इनके द्वारा की गई अन्य वारदातों का भी खुलासा हो सके।

 

PunjabKesari

 

रुपयों से भरा बैग छीनकर भागे थे बाइक सवार

 

दरअसल सीताराम नाम का  व्यक्ति अपने साले उमेश के पास भट्ठे पर लेबर की देखरेख का काम करता था। उसके साले उमेश ने भट्ठे पर लेबर देने का काम लिया हुआ था और वह पहले भी एक बार लेबर को पैसे देने के लिए बिहार गया था। इस बार फिर वह भट्टे की लेबर को पेमेंट देने के लिए बिहार जा रहा था। उमेश के कहने पर भट्टे पर मुखिया का काम करने वाले राहुल ने करनाल से पटना के लिए रेल टिकट बुक कराई थी। राहुल को बिहार में लेबर की पेमेंट ले जाने की पूरी जानकारी थी। मंगलवार की सुबह वे एक बैग में आठ लाख रुपये भरकर इनोवा गाड़ी से रेलवे स्टेशन के लिए चले थे। इनोवा कार को राहुल चला रहा था। जैसे ही दोनों रेलवे स्टेशन पर पहुंचे तो बाइक सवार दो अज्ञात आरोपी राहुल के हाथ से रुपयों से भरा बैग छीनकर मौका से फरार हो गए थे। इस संबंध में  सिविल लाइन थाना में मामला दर्ज किया गया था।

 

राहुल ने ही बड़े भाई और एक अन्य के साथ मिलकर बनाया था प्लान

 

मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए  डिटेक्टिव स्टाफ की टीम ने आज आरोपी राहुल, उसके बड़े भाई रोहित व  संजय को बस अड्डा करनाल के पीछे झुग्गी झोपड़ी से गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों से की गई प्रारंभिक पूछताछ में खुलासा हुआ कि वारदात से एक दिन पहले तीनों आरोपियों ने इस वारदात को अंजाम देने के लिए योजना बनाई थी। वारदात को अंजाम देने के बाद रुपयों को आपस में बांटना था। आरोपी राहुल द्वारा दोनों आरोपियों को पहले से ही सारी जानकारी उपलब्ध करा दी गई थी। वारदात से पहले भी आरोपी राहुल ने ही अन्य दोनों आरोपियों को सूचना दी थी। इसके बाद पूर्व नियोजित तरीके से बाइक पर सवार होकर आरोपी रोहित व संजय आए और रुपयों से भरा बैग  लेकर मौके से फरार हो गए।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Gourav Chouhan

Related News

Recommended News

static