ट्रिपल मर्डर केस में 5 को उम्रकैद: घर के बाहर की थी मां, दो बेटों की हत्या

punjabkesari.in Saturday, Apr 23, 2022 - 04:32 PM (IST)

गुरुग्राम: गुरुग्राम में 6 साल पहले हुए ट्रिपल मर्डर केस में कोर्ट ने 5 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अदालत ने 6500 रुपए प्रति दोषी के अनुसार जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना न भरने की सूरत में दोषियों को अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।

गुरुग्राम शहर के विकास नगर निवासी मीनू ने सेक्टर-10 थाना पुलिस को बताया था कि 22 अप्रैल 2016 को वह घर पर थी। उसका पति धर्मेंद्र रात करीब 8:30 बजे घर में बैठा था। इस दौरान उन्हें बाहर से मारपीट की आवाज आई। इस पर वह और अन्य लोग बाहर निकले तो पता चला कि पड़ोसी कमला देवी, संपत और उसके तीनों बेटे राम सिंह, लखन व शंकर मारपीट कर रहे हैं।

उन्होंने पुलिस को बताया था कि उनके मकान का निर्माण चल रहा था। इस दौरान निर्माण के लिए सरिया आया था। उन्होंने सरिया घर के बाहर रखवा दिया था। कुछ सरिया संपत के घर के सामने भी रखा गया था। इस बात से वह नाराज हो गए और उन्हें जातिसूचक शब्द कहने लगे।   जब मारपीट का शोर सुनकर धर्मेंद्र व मीनू बीच-बचाव करने गए तो आरोपियों ने उन पर भी हमला कर घायल कर दिया था। इस घटना में अजय व विजय ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था जबकि धर्मेंद व लांगश्री को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया था। सिविल अस्पताल में उनकी हालत को देखते हुए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल भेज दिया था। वहां लांगश्री ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static