अग्निपथ के विरोध में रोहतक में महापंचायत, भाजपा-जजपा विधायकों का विरोध करने का हुआ फैसला

punjabkesari.in Friday, Jul 01, 2022 - 09:03 PM (IST)

रोहतक(दीपक): किसान आंदोलन की तरह अब अग्निपथ योजना के विरोध में भी जेजेपी व भाजपा नेताओं का हर गांव में विरोध किया जाएगा। यह फैसला शुक्रवार को रोहतक जिले के गढ़ी सांपला गांव स्थित छोटूराम संग्रहालय में आयोजित पंचायत में लिया गया। यही नहीं अब हर गांव में इस योजना के विरोध में लोगों को जागरूक किया जाएगा तथा पंचायतों के माध्यम से योजना को वापस लेने के लिए ज्ञापन भी सौंपा जाएंगे।

गांव में आने पर विधायकों का विरोध करेंगे ग्रामीण

अग्नीपथ योजना के विरोध में अब किसान संगठन और खाप पंचायतें आंदोलन को तेज करने की राह पर चल पड़ी है। रोहतक जिले के गढ़ी सांपला में चल रहे धरने पर एक महापंचायत का आयोजन किया गया। जिसमें यह फैसला लिया गया कि अब हर गांव की पंचायत अग्निपथ योजना के विरोध को लेकर ज्ञापन सौंपेगी। यही नहीं गांव में आने पर भाजपा और जजपा के नेताओं का विरोध भी किया जाएगा। साथ ही यह फैसला लिया गया है कि युवाओं की बजाए उनके परिवार के लोग धरनों में शामिल होंगे तथा गढ़ी सांपला छोटूराम संग्रहालय से जो भी फैसले लिए जाएंगे वही इस आंदोलन को चलाने के लिए पूरे प्रदेश में लागू होंगे। पंचायत में यह भी फैसला लिया गया कि आंदोलन के दौरान जिन युवाओं पर मुकदमे बनाएं गए हैं, वह वापस लिए जाएं और जिन युवाओं की आंदोलन के दौरान मौत हुई है उन्हें मुआवजा भी दिया जाए।

किसान आंदोलन की तर्ज पर रणनीति बना रहे ग्रामीण

पंचायत में भाग लेने वाले संगठन के नेताओं का कहना है कि सरकार अब फिर से कहने लगी है कि यह योजना वापस नहीं होगी। लेकिन वह आंदोलन कर इस योजना को वापस लेने के लिए सरकार को मजबूर कर देंगे। क्योंकि किसान आंदोलन में भी इसी तरह का राग अलापा जा रहा था। लेकिन आखिरकार सरकार को झुकना पड़ा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार इस योजना के तहत देश में सैनिक नहीं अस्थाई नौकरी देकर युवाओं को बेरोजगारी की लाइन में खड़ा करने जा रही है। यह युवाओं को जलाने की साजिश है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static