ससुरालियों की ज्यादती से तंग विवाहिता घर के बाहर बैठने को हुई मजबूर, 1 साल पहले हुई थी शादी

punjabkesari.in Sunday, Feb 27, 2022 - 08:45 AM (IST)

फरीदाबाद : मेवला महाराजपुर में ससुरालियों की ज्यादती से तंग एक विवाहिता घर के बाहर खड़ी होकर पुलिस प्रशासन से न्याय की गुहार लगाने को मजबूर है, लेकिन हैरानी की बात तो यह है कि पुलिस प्रशासन इस मामले में पूरी तरह से मौन बना बैठा है और महिला की शिकायत के बावजूद ससुरालियों पर कोई कार्यवाही नहीं की गई। पीड़ित महिला ने ससुरालियों पर दहेज प्रताडऩा के अलावा अन्य प्रकार की यातनाएं देने का भी आरोप लगाया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार उत्तरप्रदेश की रहने वाली पिंकी चौधरी की शादी करीब एक साल पहले मेवला महाराजपुर निवासी वरूण बैंसला से हुई थी। शादी के दौरान परिजनों ने अपनी क्षमता अनुसार दान दहेज देकर पिंकी को विदा किया था परंतु ससुराल वाले दहेज की मांग को लेकर अक्सर उसे तंग करने लगे। करीब तीन महीने पहले उसे सिर में दर्द हुआ, जांच करने पर डॉक्टरों ने उसे ब्रेन हेमरेज बताया और आप्रेशन की सलाह दी। जिस पर ससुराल पक्ष के लोग उसे घर ले आए और दो दिन तक कमरे में बंद रखा, जब उसकी तबीयत ज्यादा खराब हुई थी तो ससुराल वाले उसे अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने आप्रेशन के 15-20 लाख रूपए खर्चा बताया, जिस पर ससुरालियों ने लड़की को अस्पताल में छोड़कर चले गए तथा बाद में शादी करवाने वाले बिचौलिए को खरी खोटी सुनाते हुए कहा कि उसने उन्हें बीमार लड़की दिलवा दी। 

मामले की जानकारी मिलने पर लड़की पक्ष के लोगों ने अस्पताल पहुंचकर लड़की का आप्रेशन करवाया और आज जब वह बिल्कुल ठीक है और अपने ससुराल वापिस आना चाहती है तो ससुराल वाले उसे घर में घुसने नहीं दे रहे। पिंकी ने बताया कि वह और उसके परिजन पिछले तीन दिन से यहां ससुराल के बाहर डेरा जमाए हुए है, लेकिन ससुराल पक्ष के लोगों के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static