हरियाणा के 4 जिलों में मास्क पहनना हुआ अनिवार्य, जानिए कौन-से हैं वो जिले ?

punjabkesari.in Monday, May 09, 2022 - 06:57 PM (IST)

चंडीगढ़(धरणी): दिल्ली के साथ लगते हरियाणा के जिलों में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को लेकर स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से चिंतित नजर आ रहा है। आगामी समय में स्थिति ना बिगड़े, इसे लेकर विभाग द्वारा युद्ध स्तर पर कई तरह के सुधारा किए जा रहे हैं। इस महत्वपूर्ण विषय को लेकर स्वास्थ्य विभाग की महानिदेशक डॉ वीणा सिंह ने बताया कि स्थिति वैसे तो कंट्रोल में है, लेकिन फरीदाबाद, गुड़गांव, झज्जर और सोनीपत में ज्याद केस सामने आ रहे हैं। बाकि प्रदेश के अधिकतर जिले इस समय पूरी तरह से सुरक्षित हैं। कुल मिलाकर आज हरियाणा में एक्टिव मामलों की संख्या 2400 है। उम्मीद है कि अगले 10 दिनों में स्थिति इससे बेहतर हो जाएगी। उन्होंने बताया कि हमने तुरंत प्रभाव से टेस्टिंग बढ़ाने के आदेश जारी किए, जिसमें प्रतिदिन होने वाले कोरोनो टेस्ट की संख्या को 3 हजार से बढ़ाकर 12 हजार कर दिया गया है। अगले हफ्ते तक इस संख्या को बढ़ाकर 20 हजार तक पहुंचाने लक्ष्य है।

डॉ वीणा सिंह ने बताया कि हमने फरीदाबाद, गुड़गांव, झज्जर और सोनीपत जिले में मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है। वैक्सीनेशन का कार्य भी तेजी से युद्ध स्तर पर किया जा रहा है। लगभग 4 करोड 40 हजार वैक्सीनेशन प्रदेश में लगाई जा चुकी है। वैक्सीनेशन के मामले में हम देश में सबसे अव्वल हैं। 12 से 14 साल के बच्चों को हम साढ़े 4 लाख वैक्सीन लगा चुके हैं। जिसमें पहली डोज 3 लाख 70 हजार और दूसरी डोज 80 हजार को लगाई गई है। 18 साल तक के बच्चों को करीब 7 लाख डोज लगाई जा चुकी है। उन्होंने बताया कि हरियाणा में इस समय कोरोना के ज्यादातर मामले बी-2 वेरिएंट से जुडे हुए हैं। पिछले दो-तीन महीनों में डेल्टा के भी ज्यादा केस देखने को नहीं मिल रहे हैं।

स्कूलों के माध्यम से सभी जिलों में कई विभागों की जिम्मेदारियां सुनिश्चित की गई हैं। जैसे पंचायतें, स्कूल, टीचर, एएनएम, आशा वर्कर्स सभी अपनी-अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रहे हैं। हम लगातार अच्छी स्थिति में जा रहे हैं और आने वाले दिनों में हमें कोरोना के मामलों में गिरावट आने की की पूरी उम्मीद है। उन्होंने बताया कि हरियाणा में अब तक कुल 4 करोड़ 20 लाख वैक्सीन डोज लगाई जा चुकी हैं।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static