बदमाशों ने अपने साथी को गोली मारकर पीड़ित के खिलाफ दर्ज करवाया मामला, 4 गिरफ्तार

10/20/2020 4:22:52 PM

पलवल/होडल(दिनेश/मधुसूदन): होडल थाना पुलिस ने मारपीट के मामले में समझौता कराने व जान से मारने की नीयत से गोली मारकर पीड़ित के खिलाफ ही धारा-307 का झूठा मुकदमा दर्ज कराने के मामले का खुलासा किया है। इस मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर किया है, जबकि पांच आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश दी जा रही है। 

उप पुलिस अधीक्षक बलवीर सिंह ने बताया कि 2 सिंतबर 2019 को अंधुआ पट्टी निवासी राहुल ने शिकायत दर्ज कराई थी कि 25 सिंतबर 2019 को उसके भाई कैलाश के साथ होडल निवासी लल्लु उर्फ ललित, सतीश, राधे उर्फ राजेश उर्फ पतरा, अनिल, सुरेश, पवन,सूखा,कैलाश,यशपाल उर्फ गुलशन व मंजीत ने मारपीट की और गंभीर रुप से घायल कर दिया। इस संबंध में पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि उसके बाद आरोपी ललित के अन्य साथियों ने उसे पांच लाख रुपये का लालच देकर कहा कि तू अपने पैर में गोली लगवा ले और पीड़ित राहुल व उसके साथियों के खिलाफ झूठा मामला दर्ज करा देंगे। जिससे तुम्हारे मामले का समझौता हो जाएगा। जिस पर ललित ने अपने साथियों की बात मान ली। उन्होंने बताया कि ललित के साथियों ने अगस्त 2020 में पहले ललित को शराब पिलाई और उसके पैर में गोली मारकर पीड़ित राहुल व उसके साथी कैलाश, महेश, सुरेंद्र व मोहित के खिलाफ 307 का मामला दर्ज करा दिया। इस संंबंध में भी पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

डीएसपी ने बताया कि अक्टूबर 2020 में नया नंगला निवासी गिर्राज ने मारपीट का मामला होडल थाने में दर्ज कराया, जिसमें अनिल व सतीश आरोपी पाए गए और उन्हें गत 17 अक्टूबर को गिरफ्तार कर अदालत में पेश कर तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया। रिमांड के दौरान आरोपियों ने बताया कि उन्होंने अपने साथी रोहित व अन्य के साथ मिलकर मारपीट व लूटपाट वाले मामले का समझौता कराने व पीड़ित को झूठे मामले में फंसाने के लिए अपने साथी ललित के पैर में गोली मारी और 307 का झूठा मुकदमा दर्ज कराया था। 

उन्होंने बताया कि पुलिस अधीक्षक दीपक गहलावत के नेतृत्व में पुलिस ने गत 18 अक्टूबर को आरोपी ललित उर्फ लल्लू व रोहित गिरफ्तार कर एक दिन के रिमांड पर लिया। रिमांड के दौरान आरोपियों ने सारे मामले का खुलासा किया। पुलिस ने मंगलवार को  चारों आरोपियों को अदालत में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया। मामले में लिप्त अन्य फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है। 


Shivam

Related News