केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण पंचकूला में आयोजित गोष्ठी में होंगी शामिल

9/23/2021 8:52:10 PM

चंडीगढ़ (धरणी): देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण शुक्रवार को हरियाणा के पंचकूला में एक गोष्ठी में शामिल होने पहुंचेगी। यह गोष्ठी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शासकीय 20 वर्ष के कार्यकाल की आर्थिक उपलब्धियों पर आयोजित की गई है। जिसमें प्रदेश के इंडस्ट्रलिस्ट, बिजनेसमैन, चार्टर्ड अकाउंटेंट इत्यादि लोग मुख्य रूप से आमंत्रित हैं। इस गोष्ठी की अध्यक्षता हरियाणा विधानसभा स्पीकर एवं पंचकूला के विधायक ज्ञान चंद गुप्ता करेंगे। यह गोष्ठी पंचकूला के पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस सेक्टर 1 में आयोजित होनी है। जिसमें देश के प्रधानमंत्री के शासकीय कार्यकाल के दौरान उनके द्वारा हासिल की गई आर्थिक उपलब्धियों और आर्थिक नीतियों के बारे में वह जानकारी देंगी। 

इस बारे पंचकूला विधायक एवं हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने बताया कि इसके बाद केंद्रीय वित्तमंत्री मेगा वैक्सीनेशन कैंप जो कि सुबह 9 से 5 बजे तक सेक्टर 17 के कम्युनिटी सेंटर में चलेगा, उसमें शामिल होंगी। इस मेगा वैक्सीनेशन कैंप मे को-वैक्सीन और कोविशील्ड दोनों ही तरह की पहली व दूसरी डोज लगाई जाएंगी। बड़ी संख्या में शामिल होने वाले लोगों के उत्साहवर्धन के लिए वित्त मंत्री इस कैंप में शिरकत करेंगी।

हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि निश्चित तौर पर आज पंचकूला एक डेवलपिंग स्टेज पर है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पंचकूला को मेट्रोपॉलिटन सिटी घोषित किया है। इसके साथ-साथ बहुत बड़े बड़े प्रोजेक्ट पंचकूला को दिए हैं और देश के प्रधानमंत्री का भी पंचकूला से विशेष लगाव रहा है। उन्होंने अपने जीवन के कठिन 5 साल पंचकूला में व्यतीत किए हैं और वह पंचकूला समेत उत्तर क्षेत्र के हर गांव- शहर से भलीभांति परिचित हैं। कुछ समय पहले प्रधानमंत्री द्वारा मनसा देवी और गुरुद्वारा नाडा साहिब के विकास के लिए 25-25 करोड़ रुपए दिए गए। जिसके तहत विभिन्न प्रकार के विकास कार्य वहां चल रहे हैं। 

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तरी क्षेत्र का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट 500 करोड़ की लागत से बनने वाला आयुष का एम्स जिसमें आयुष पद्धति पर रिसर्च तो होंगी ही साथ ही 250 बेड का अस्पताल भी बनाया जाना है, जहां लोगों का इलाज आयुष द्वारा किया जाएगा, पंचकूला को सौगात दी है। जिसका काम युद्ध स्तर पर चल रहा है और अब देश के खजाना मंत्री यहां आ रही हैं। निश्चित तौर पर अब हमारे पास खजाने की कोई कमी नहीं रहने वाली। गुप्ता ने कहा कि हम वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से विकास और बेरोजगारी को दूर करने की दृष्टि से बड़ा प्रोजेक्ट-बड़ी इंडस्ट्री पंचकूला के लिए मांगेंगे, ताकि यहां बेरोजगार युवाओं को नौकरी मिल सके।

उन्होंने कहा कि 3 दिन पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलकर विशेष तौर पर तीन मुद्दों पर चर्चा की थी। जिसमें हरियाणा विधानसभा के लिए नए भवन का निर्माण, पंजाब द्वारा जबरदस्ती हरियाणा विधानसभा का कब्जा किया हुआ हिस्सा छुड़वाने तथा पंजाब यूनिवर्सिटी में हरियाणा के बच्चों को उनका हक दिलवाए जाने जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर बातचीत हुई। गुप्ता ने कहा कि आज हरियाणा विधानसभा में 90 विधायक हैं और विधायकों के बैठने की व्यवस्था पूरी- सूरी है। 13 विधानसभा की कमेटियां हैं। लेकिन केवल 2 विधानसभा कमेटी के लिए पर्याप्त स्थान है और समाचार पत्रों और मीडिया बंधुओं की संख्या में इजाफा होने के कारण मीडिया गैलरी भी काफी छोटी पड़ चुकी है और कुछ समय बाद दोबारा से परिसीमन होना है। निश्चित तौर पर विधानसभा क्षेत्रों की विधायकों की संख्या में इजाफा होगा।

अनुमान के मुताबिक विधायकों की संख्या 25 से 35 तक बढ़ सकती है। उस दृष्टि से हमें अभी से तैयारी करनी होगी। जिसके लिए अमित शाह जी से विचार-विमर्श हुआ है। साथ ही दूसरा पंजाब के पास जो हमारा विधानसभा का हिस्सा है, जो उन्होंने धक्के से अपने पास रखा हुआ है, उसे भी हमें दिलवाने के लिए मैंने अमित शाह को बोला है। तीसरा पंजाब यूनिवर्सिटी में हरियाणा का हिस्सा रिस्टोर होना चाहिए। जो कि पहले हिस्सा हरियाणा के पास था। लेकिन बाद में यह निकाल दिया गया। वह हमारे बच्चों के भविष्य के लिए बहुत जरूरी है। क्योंकि हमारे क्षेत्र के कॉलेजों को यूनिवर्सिटी के साथ ऐफिलेट होने के बाद इस यूनिवर्सिटी के टेक्निकल कोर्स हमारे बच्चे भी कर पाएंगे। 

आज यूनिवर्सिटी में 85 फ़ीसदी कोटा पंजाब और पूरे देश के लिए 15 फ़ीसदी का कोटा है। अगर हमारे कॉलेज पंजाब यूनिवर्सिटी के साथ एफिलेट होंगे तो 85 फ़ीसदी का लाभ हमारे कॉलेजों को- हमारे बच्चों को भी मिलना शुरू हो जाएगा। हमने हाई कोर्ट में भी एक एफिडेविट दिया है कि 92 फ़ीसदी केंद्र 4 फ़ीसदी हरियाणा और 4 पंजाब के हिसाब से हम अपने हिस्से के पैसे देने को भी तैयार हैं। गुप्ता ने कहा कि मुझे खुशी है कि अमित शाह ने तीनों मुद्दों को महत्वपूर्ण बताया है और इस पर विचार करने की बात कहते हुए अच्छे संकेत दिए हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vinod kumar

Recommended News

static