डीटीपी अधिकारी ने नहीं उठाया फोन, भड़के विधायक ने कहा- यहां रहने नहीं दूंगा

9/27/2020 8:35:15 PM

पानीपत (अनिल कुमार): पानीपत के विधायक प्रमोद विज का पारा सातवें आसमान पर उस वक्त चढ़ गया जब डीटीपी अधिकारी ने उनका फोन नहीं उठाया। फोन न उठाए जाने पर विधायक ने दूसरे व्यक्ति के फोन पर अधिकारी से बात करनी चाही, तो तब भी बात न हुई। अब विधायक से रहा न गया और वे वहां पहुंच गए जहां अधिकारी अपनी कार्रवाई को अंजाम दे रहे थे। फोन न उठाए जाने से तमतमाए विधायक ने पहुंचते ही अधिकारी को खरी-खोटी सुना डाली और कहा कि वे अधिकारी को पानीपत में रहने नहीं देंगे।

PunjabKesari, haryana

दरअसल, प्रमोद विज डीटीपी द्वारा की रही कार्रवाई के पक्ष में नहीं है, जबकि पानीपत में बिना सीएलयू के फैक्ट्रियों का निर्माण और उन्हें डीटीपी द्वारा गिराया जाना दोनों ही बराबर चल रहा है। एमएलए का कहना है कि फैक्ट्रियों के तोड़े जाने को लेकर कुछ समय पहले उन्होंने मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी और इस बात की सिफारिश की थी कि निर्माणाधीन फैक्ट्रियों को न तोड़ा जाए।

वहीं डीटीपी अधिकारी ललित हुड्डा द्वारा फोन न उठाए जाने को लेकर विधायक प्रमोद विज का कहना है कि ललित हुड्डा ने विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा जारी प्रोटोकॉल के आदेश का उल्लंघन किया है। उन्होंने कहा कि वे इस मामले की जानकारी मुख्यमंत्री मनोहर तक पहुंचाएंगे।

PunjabKesari, haryana

उधर, डीटीपी अधिकारी ललित हुड्डा ने अपनी सफाई में कहा कि उनका फोन न उठाने का कोई विशेष मकसद नहीं था, वे अपना फोन गाड़ी में भूल गए थे। वहीं विधायक द्वारा उनके ट्रांसफर की बात पर ललित ने कहा कि ये तो सरकार तय करेगी कि उन्हें कहां नौकरी करनी है।

काबिले जिक्र है कि जिला योजनाकार विभाग का सरकारी पंजा अवैध निर्माणों व हाईवे पर बने अवैध ढाबों पर बेरोक-टोक चल रहा है। इस बार जब डीटीपी का सरकारी पंजा पानीपत के प्रसिद्ध उद्योगपति भीम सचदेवा की फैक्ट्री पर चला तो सभी उद्योगपति एकजुट हुए विधायक व सांसद को 7 दिन का अल्टीमेटम दिया। जिसके बाद विधायक प्रमोद विज ने डीटीपी के इस कार्रवाई में दखलंदाजी की।


vinod kumar

Related News