लोग स्वास्थ्य सेवाओं के अभाव में जान गंवा रहे हैं, सीएम व मंत्री फोटो सेंशन करा रहे हैं: चौटाला

5/4/2021 5:03:46 PM

चंडीगढ़: इनेलो नेता अभय चौटाला ने कहा कि  प्रदेश के मुख्यमंत्री कोरोनाकालीन संकट की घड़ी में भी सफेद झूठ बोलने से बाज नहीं आ रहे हैं। एक तरफ कल रेवाड़ी में सीएम कह रहे हैं कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है  जो ऑक्सीजन की कमी थी, उसकी पूर्ति कर दी गई है  वहीं दूसरी तरफ स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज कह रहे हैं कि प्रदेश में ऑक्सीजन की भारी कमी है।

प्रदेश में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 1 लाख से ज्यादा होने के कारण प्रदेश को 300टन ऑक्सीजन की जरूरत है. वहीं प्रदेश का कोटा 227 टन निर्धारित है और 145 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति हो रही है। इस हिसाब से देखें तो प्रदेश को जरूरत से केवल आधी ऑक्सीजन मिल रही है, जो कि भयावह स्थिति है. दोनों के बयानों से यह साफ है कि सीएम और स्वास्थ्य मंत्री के बीच कोई तालमेल नहीं है। इसी कारण एक-दूसरे के विरोधी बयान दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि फरीदाबाद के एक बड़े अस्पताल एशियन मेडिकल इंस्टीटियूट ने पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दायर करते हुए कहा कि सरकार उन्हें पूरी ऑक्सीजन मुहैया करवाए। प्रदेश के मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी नहीं है, वहीं स्वास्थ्य मंत्री कह रहे हैं कि 1 लाख से ज्यादा कोरोना मरीज होने के कारण प्रदेश में बेड़ों की भी भारी किल्लत है।  अनिल विज ने सभी उपायुक्तों को आदेश दिए हैं कि स्कूल, कॉलेज और धर्मशालाओं आदि में जहां जगह मिले वहां बैड लगाए जाएं।सरकार के मंत्री खानापूर्ति करने के लिए इन बेड़ों के साथ फोटो खिंचवाकर आ जाते हैं, जबकि वहां कोई सुविधा व डॉक्टर उपलब्ध नहीं होते हैं।

चौटाला ने कहा कि वह पिछले दो सप्ताह से जेसीडी का 100 बेड का अस्पताल देने की अपील कर रहा हूं, लेकिन उसे अभी तक सरकार ने कोविड सेंटर नहीं बनाया. वहीं सीएम केवल झूठी घोषणाएं करते फिर रहे हैं, यर्थाथ के धरातल पर कोई काम नहीं हो रहे हैं। DRDO ने भी पानीपत और हिसार में 500-500 बेड के दो अस्पताल बनाने से मना कर दिया है। मुख्यमंत्री और उनके सलाहकार बयान देने और हवा-हवाई दौरों तक सीमित हैं। गठबंधन सरकार को अपनी जिम्मेदारी समझते हुए संजीदगी से प्रदेश की सभी बहुमूल्य जानों की इफाजत करनी चाहिए। इनेलो पार्टी के सभी कार्यकर्ता प्रदेश भर में जितनी हो सकती है, उतनी मदद कर रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


Content Writer

Isha

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static