चिलचिलाती गर्मी में भी वैक्सीन लगवाने को मजबूर ऐलनाबाद के लोग, सता रहा कोरोना का डर

5/6/2021 12:58:44 PM

ऐलनाबाद (सुरेंद्र सरदाना): कोरोना संक्रमण की पहली लहर से हुए नुकसान से देश अभी उबरा ही नहीं कि दूसरी लहर ने देशभर में तबाही मचाई हुई है। बेशक कोरोना से बचने के लिए भारत ने वैक्सीन भी इज़ाद कर ली है लेकिन अभी तक यह वैक्सीन देशभर की कुल आबादी के कुछ हिस्से के लोगों ने ही इसे लगवाया है। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से पहले सरकार द्वारा वैक्सीन लगवाने के प्रचार प्रसार शुरू कर दिया था और आमजन को वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक भी किया था।

लोगों को कोरोना संक्रमण का डर सताने लगा है और वैक्सीन को ही अपने बचाव का एकमात्र उपाय समझने लगे है। ऐसे में वैक्सीन लगवाने वालों की संख्या इस कदर बढ़ गई है कि न केवल लोगों को इसके लिए अपनी बारी का इंतज़ार करने के लिए पंजीकरण करवाना पड़ रहा है बल्कि सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए लाइन में लगकर अपनी बारी का इंतज़ार करना पड़ रहा है। अगर ऐलनाबाद के नागरिक अस्पताल की बात करें तो आलम यह है कि वैक्सीन लगवाने वाले चिलचिलाती धूप में भी सोशल डिस्टेंसिंग बनाते हुए अपनी बारी की इंतज़ार के लिए मजबूर है।

बता दें कि ऐलनाबाद के नागरिक अस्पताल में भी पंजीकरण के बाद कोविड वैक्सीन लगाई जा रही है। यह वैक्सीन कोविड नियमों की पालना करते हुए लगाई जा रही है। लेकिन हॉस्पिटल में छाया की कोई व्यवस्था न होने के चलते लोग चिलचिलाती धूप में ही बाहर खड़े होकर वैक्सीन लगवाने को मजबूर है। आमजन वैक्सीन लगवाने के लिए इतने उत्साहित नज़र आ रहे है कि कोरोना संक्रमण के डर के सामने ऐसी चिलचिलाती धूप में खड़े होना उन्हें सहज नज़र आ रहा है। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 
 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Recommended News

static