गेहूं का उठान न होने धान की खरीद के समय आ सकती हैं दिक्कतें

9/22/2021 9:23:47 AM

यमुनानगर(सुरेंद्र मेहता): हरियाणा में धान की खरीद कब से शुरू होगी इसको लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। किसान संगठन 25 सितंबर से धान की खरीद शुरू करने की मांग कर चुके हैं। अधिकारियों के पास धान की खरीद 25 सितंबर से शुरू करने के संदेश हैं, लेकिन इसके बावजूद धान की खरीद में वर्तमान व्यवस्था को लेकर असमंजस की स्थिति है। प्रदेश के अन्य इलाकों की तरह यमुनानगर की अनाज मंडीया अभी गेहूं  की बोरियों से भरी हुई हैं। शेड में कोई जगह खाली नहीं है। 

यमुनानगर के जगाधरी की इस अनाज मंडी का हाल आप देख सकते हैं। अनाज मंडी में हालांकि धान आना शुरू हो चुका है। 2 दिन पहले हुई बारिश के कारण मंडी में आया धान भीग गया था जिसके बाद मजदूर उसे सुखाने का प्रयास कर रहे हैं। इसके साथ साथ मंडी में अधिकांश शेड गेहूं की बोरियों से लदे पड़े हैं। जहां तक निगाह जाती है मंडी में गेहूं की बोरियां ही बोरियां नजर आ रही हैं।

अगर 25 सितंबर से धान की खरीद शुरू होती है तो उसमें मात्र 2 दिन का समय शेष है, इतने कम समय में लाखों क्विंटल गेहूं की बोरियों का उठान संभव ही नहीं है। हालांकि अधिकारी दावा कर रहे हैं उठान जल्दी हो जाएगा। अनाज मंडी के मंडी सचिव ऋषि राज का कहना है कि फूड सप्लाई विभाग को आदेश दिए गए हैं कि वह गेहूं जल्द से जल्द उठा ले। उन्होंने बताया कि उनके पास अभी तक 25 सितंबर से  धान की खरीद शुरू करने के आदेश हैं। उन्होंने कहा की मंडी में उन्ही किसानों की  दान खरीदी जाएगी जिन्होंने मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर रजिस्टर्ड करवाया है। और वह तय दिन के हिसाब से मंडी में धान लेकर आएंगे, जिसमें 16% तक की नमी को स्वीकार किया जाएगा।

वही मंडी अधिकारी ने यह भी बताया की मंडी में बिजली पानी की व्यवस्था की जा रही है, पूरी मंडी में ढाई सौ के लगभग एलईडी बल्ब लगाए जा रहे हैं। पानी निकासी के प्रबंध किए जा रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ आढ़ती एसोसिएशन के पूर्व जिला अध्यक्ष सुखदेव कंबोज का कहना है कि मंडी में पिछली खरीद के समय किसानों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ा था।  अभी भी हालात वैसे ही हैं। उन्होंने कहा कि एक तरफ सड़कों की स्थिति ठीक नहीं है, पिछला गेहूं का स्टॉक शेड में पड़ा हुआ है। गेट पास में पिछली बार भी किसानों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ा था।

मंडियों में खरीद 25 सितंबर से शुरू होगी या नहीं अभी तक असमंजस की स्थिति है। लेकिन मंडिया अभी गेहूं से अटी पड़ी हैं , धान रखने के लिए जगह भी नहीं है। क्या 2 दिन में यह गेहूं का उठान हो पाएगा यह देखने वाली बात होगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Recommended News

static