गुरुग्राम : सैनिक और उसके दो भाइयों की क्लब के बाहर पिटाई करने के मामले में बांउसरों पर मामला दर्ज

punjabkesari.in Tuesday, Aug 16, 2022 - 10:17 AM (IST)

गुरुग्राम, 15 अगस्त (भाषा) दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम में सेक्टर-29 स्थित एक क्लब के बाहर सेना के एक जवान और उसके दो भाइयों की कथित पिटाई करने के मामले में क्लब के बाउंसरों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी।
उन्होंने बताया कि रविवार रात को हुई घटना में तीनों भाई बुरी तरह से घायल हैं और उनका निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है।
खबरों के मुताबिक किसी व्यक्ति द्वारा 112 हेल्पलाइन पर फोन पर करने और पुलिस के मौके पर पहुंचने के बाद भी बाउंसरों ने तीनों भाइयों की पिटाई जारी रखी।
खबरों के मुताबिक पुलिस ने अतिरिक्त बल मंगाए, लेकिन तबतक हमलावर फरार हो गए।
शिकायत के मुताबिक मूल रूप से रोहतक जिले के रहने वाले नायक सुनील सिंह अपने दो भाइयों खजान सिंह और अनिल कुमार के साथ रविवार रात पार्टी करने के लिए फ्रिक्शन क्लब गए।
पुलिस के मुताबिक सुनील कुमार ने बताया, ‘‘ रात करीब 11 बजकर 20 मिनट पर हम फ्रिक्शन क्लब में दाखिल हुए। हम नाच रहे थे और स्वयं आनंद ले रहे थे। करीब 20 मिनट के बाद क्लब में संगीत बंद हो गया। मेरे भाई अनिल ने संगीत बजाने का अनुरोध किया, लेकिन दो बाउंसर आए और उन्होंने अनुरोध को ठुकरा दिया।’’
सेना के जवान ने बताया, ‘‘वे हमसे बहस करने लगे और तभी दो और बाउंसर वहां आ गए। वे हमें क्लब से बाहर ले गए और डंडो से पिटाई की। उन्होंने क्लब में दोबारा दाखिल होने पर हमें जान से मारने की धमकी दी।’’
पुलिस ने बताया कि शिकायत के आधार पर गुरुग्राम सेक्टर-29 पुलिस थाना में फ्रिक्शन क्लब के चार अज्ञात बाउंसरों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की गई है।
डीएलएफ की एसीपी डॉ.कविता ने बताया, ‘‘प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। हम तथ्यों को सत्यापित कर रहे हैं और कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।’’
गौरतलब है कि साइबर सिटी पार्क में एक हफ्ते में बाउसंरों द्वारा किसी व्यक्ति की पिटाई का यह दूसरा मामला है। इससे पहले नौ अगस्त को उद्योग विहार स्थित कासा डेनजा क्लब के बाउंसरों और प्रबंधक ने एक बहुराष्ट्रीय कंपनी के प्रबंधक और उसके दोस्तों की कथित तौर पर पिटाई कर दी थी। उक्त मामले में 10 अगस्त को सात लोगों को गिरफ्तार किया गया था।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News

static