रेप पीड़िता न्याय के लिए दर-दर भटकने को मजबूर, पुलिस बना रही समझौते का दबाव

9/22/2020 7:03:46 PM

पानीपत (अनिल): पानीपत किला थाना क्षेत्र में एक रेप पीड़िता न्याय के लिए दर-दर भटकने को मजबूर है। वहीं इस मामले में पुलिस रेप पीड़िता पर समझौते का दबाव बना रही है। आरोप है कि पुलिस आरोपी पक्ष से मिली हुई है और पीड़िता के माता-पिता को झूठे मामले की फंसान की तैयारी में है।

जानकारी के मुताबिक, 25 अगस्त को एक महिला के साथ दुष्कर्म हुआ, इस मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज की, लेकिन अभी तक किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं की गई। पीड़ित महिला व परिजनों में काफी रोष है और महिला का आरोप है कि पुलिस उल्टा उन पर ही समझौते का दबाव बना रही है और उन्हें किसी झूठे केस में फंसाने की बात कर रही है। जिससे परेशान होकर वह अपने घर में भी नहीं रह रहे हैं। पीड़ित महिला द्वारा इसकी शिकायत महिला आयोग व गृह मंत्रालय को भी भेजी गई है।

पीड़िता का आरोप है कि अब पुलिस उसे डरा रही है और उसने झूठा केस दर्ज करवा कर आरोपियों से 3 लाख रुपये मांगे हैं। उसने बताया कि माता-पिता उससे शपथ पत्र पर अंगूठे लगवाने के बाद अब पुलिस के सुर पूरी तरह से बदल गए हैं। उसे पूरा शक है कि पुलिस उसे व उसके माता-पिता को किसी झूठे मामले में पकड़ कर जेल भिजवाने की तैयारी कर रही है। 

पीड़िता ने प्रदेश के गृहमंत्री से गुजारिश की है कि मामले की जांच किसी अन्य थाना की पुलिस से करवाई जाए तथा जांच का जिम्मा डीएसपी रैंक के अधिकारी को दिया जाए ताकि पूरे मामले की सच्चाई सामने आ सके। पीड़िता का यह भी आरोप है कि 2 बार शपथ पत्र पर अंगूठे लगवाने के बाद भी पुलिस दोनों आरोपियों को अरेस्ट नहीं कर रही है बल्कि वे खुले घूम रहे हैं। आरोपी की बहन उसे धमकी दे रही है कि वे पानीपत छोड़कर चले जाए वरना अंजाम बुरा होगा।

वहीं इस मामले में डीएसपी सतीश वत्स ने जानकारी देते हुए बताया कि मामले की गहनता से जांच की जा रही है और जो भी तथ्य सामने आएंगे उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि जब महिला के साथ दुष्कर्म हुआ और मामला दर्ज हो चुका है तो पुलिस द्वारा आरोपियों की गिरफ्तारी क्यों नहीं की जा रही?


Shivam

Related News