16 साल बाद मकर संक्रांति का दुर्लभ योग, आज रात इतने बजे मकर राशि में प्रवेश करेगा सूर्य

1/14/2020 5:03:23 PM

कुरुक्षेत्र (रणदीप रोड़): हिंदू संस्कृति के खास त्यौहार मकर संक्रांति का इस बार का दुर्लभ योग बन रहा है। 16 साल बाद बन रहे मकर सक्रांति के इस दुर्लभ योग को पौराणिक महत्व माना जा रहा है। पंडित पवन पोनी ने बताया कि सूर्य जब मकर राशि में प्रवेश करे तो मकर सक्रांति का योग बनता है। ऐसे में इस बार 14 तारीख की रात 10:22 पर सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा, उस समय मकर सक्रांति का योग बनेगा लेकिन रात होने की वजह से स्नान आदि का महत्व नहीं बनता। इस कारण मकर संक्रांति 15 जनवरी को सुबह मनाए जाने का योग बन रहा है।

PunjabKesari, Haryana

कुरुक्षेत्र धर्मनगरी में सूर्यकुंड अपनी पौराणिक मान्यता के चलते मकर सक्रांति के लिए खास पुण्यदायी माना जाता है। भगवान सूर्य ने पौराणिक मान्यता के अनुसार धर्मनगरी कुरुक्षेत्र में तप किया था, इसलिए यहां मकर सक्रांति में सूर्य का खास पूजन होता है। पंडित पुरोहितों का मानना है कि मकर संक्रांति के दिन सूर्य से संबंधित वस्तुओं जैसे गर्म कपड़े, खिचड़ी, तिल, इत्यादि का दान करें।

PunjabKesari, Haryana

इस दिन ब्रह्मसरोवर सन्नहित सरोवर में श्रद्धा की डुबकी लगाने से खास पुण्य मिलता है। पंडितों का कहना है कि सूर्य के प्रतिबिंब को पवित्र सरोवर में देखने से कई अश्वमेध यज्ञ का फल प्राप्त होता है। इस बार मकर संक्रांत का यह दुर्लभ योग है, जिसको लेकर लोगों में काफी उत्साह है।


Shivam

Related News