पंजाब केसरी इम्पैक्ट: हरियाणा MLA हॉस्टल में कमरे ज्यादा दिन रखने पर राज्यमंत्री व विधायकों से हुई रिकवरी

10/25/2020 11:32:26 PM

चंडीगढ़ (धरणी): अब ऐसे विधायक या मंत्री जो हरियाणा एमएलए हॉस्टल के कमरों को अपने या रिश्तेदारों, जानकारों के लिए लेकर कई-कई दिन नहीं छोड़ते थे,उनकी इन गतिविधियों पर अंकुश लगाया जाएगा। हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने एमएलए हॉस्टल की गरिमा व मर्यादा बनाए रखने के लिए कई कड़े कदम उठाए हैं।

फरवरी में स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता ने पिछले रिकॉर्ड को चेक करते हुए जहां राज्यमंत्री अनूप धानक से सवा दो लाख रूपये व 15 विधायकों से रिकवरी की बात कही थी। इस पर हरियाणा विधानसभा ने जबरदस्त कार्रवाई करते हुए 2 लाख 70 हजार रुपये की रिकवरी इनके सैलरी अकाउंट से की है। हालांकि यह रिकवरी काफी ज्यादा बनती थी, मगर राज्यमंत्री अनूप धानक व अन्य कई विधायकों के अनुरोध पर यह मामला स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता ने हाउस कमेटी को दे दिया था, जिस पर हॉउस कमेटी ने इन लोगों को आधा किराया माफ कर दिया।

हरियाणा एमएलए हॉस्टल में इस वक्त कुल 40 कमरें हैं। जिनमें दो कमरे स्टोर व एक कमरा जिम के रूप में प्रयोग में लाया जाता है। यहां 37 कमरे उपयोग में रहतें है। ऐसे विधायक जिनको कोठी या फ्लैट नहीं मिला हुआ वह इसका उपयोग कर सकते हैं। किसी भी विधायक या मंत्री द्वारा अपने गेस्ट को ठहराने के लिए भी प्रावधान है। जिन विधायकों के पास कोठी या फ्लैट नहीं है, उनसे तीन दिनों तक का 50 रूपए किराया व उसके बाद 700 रूपए किराया, प्रतिदिन का वसूलने का प्रावधान है। जिनके पास कोठी या फ्लैट है उनसे तीन दिनों तक प्रतिदिन 200 रूपये खुद ठहरने व गेस्ट से 600 रूपये वसूलने का प्रावधान है। 



हरियाणा एमएलए हॉस्टल का कायाकल्प करने में लगे स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता द्वारा प्रवेश द्वार नया लगवाया गया है। पार्क में बेंच लगवा खूबसूरती प्रदान की गई है। इससे पहले एटीएम भी यहां लगवाया जा चुका है। बीएसएनएल का एक टावर भी लग चुका है। सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर हॉस्टल में 26 सीसीटीवी कैमरे भी लगवाए जा चुके हैं। हरियाणा एमएलए हॉस्टल में तैनात पुलिस कर्मचारियों के लिए पुलिस पोस्ट बनाई गई है। 

चर्चा है कि फरवरी के दिनों में हरियाणा एमएलए हॉस्टल में ठहरे एक स्वर्गीय विधायक के परिवार के युवक अमित को सैक्टर-39 पुलिस ने हेरोइन के साथ पकड़ा था। जिसके बाद से हॉस्टल का किसी भी प्रकार से कोई व्यक्ति दुरुप्रयोग न कर सके, इसलिए स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता कड़े कदम उठा रहे हैं। 

हरियाणा के विधायक अपने हॉस्टल में फाइव स्टार होटल जैसी सुविधाओं का लुत्फ उठा सकतें हैं। जिन विधायकों के पास सरकारी फ्लैट नहीं हैं, उनके लिए नई साज-सज्जा वाला हॉस्टल बना हुआ है। हेरिटेज बिल्डिंग होने की वजह से हॉस्टल की बाहरी लुक से किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं की गई है, लेकिन अंदर से पूरी तरह से बदल दिया गया है। 
डायनिंग हॉल का नक्शा भी बदला : हॉस्टल के डायनिंग हॉल को भी भव्य रूप दिया गया है। मॉडयूलर किचन है। क्रॉकरी भी पूरी तरह से बदली गई है। दो वीवीआईपी डायनिंग हॉल बनाए गए हैं। एक बड़ा जनरल डायनिंग हॉल है। कांफ्रेंस हॉल भी बनाया गया है।

ड्राइवरों के लिए अलग प्रबंध : विधायकों के गनमैन और ड्राइवरों के लिए डोरमेटरी की सुविधा भी अब हॉस्टल में की गई है। ड्राइवरों व गनमैन के लिए 25 बेड लगाए गए हैं। डोरमेटरी में भी सुविधाओं की कमी नहीं है। यहां जरूरत की सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई हैं।


Shivam

Related News