अगले शैक्षणिक सत्र से विद्यालयों में करवाया जाएगा श्रीमद् भागवत गीता के श्लोकों का उच्चारण : मनोहर

punjabkesari.in Sunday, Dec 12, 2021 - 08:15 AM (IST)

कुरुक्षेत्र : मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि अब विद्यालयों में भी छात्र गीता का अध्ययन करेंगे। अगले शैक्षणिक सत्र से प्रदेशभर के विद्यालयों में छात्रों से श्रीमद् भागवत गीता के श्लोकों का उच्चारण करवाया जाएगा। इसके बाद पुस्तकों को लिखवाकर 5वीं व छठी कक्षा में पढ़ाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह घोषणा शनिवार को कुरुक्षेत्र में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव में की। इस दौरान उनके साथ लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला भी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2014 से पहले गीता जयंती सामान्य उत्सव की तरह चल रहा था लेकिन 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से इसको बड़ा स्वरूप देने का निर्णय लिया गया। आज देश ही नहीं विदेशों में भी गीता जयंती महोत्सव मनाया जा रहा है। गीता जयंती महोत्सव का स्वरूप बढ़ाने के लिए अगले वर्ष से गीता जयंती समिति बनाकर आयोजन करना चाहिए। इस समिति में समाज से जुड़ी संस्थाओं व अन्य संगठनों को जोडऩा चाहिए। 

जब मंच से स्वामी ज्ञानानंद ने की सांसद अरविंद शर्मा की सराहना
मंच से ही गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज ने डा. अरविंद शर्मा के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि संसद के माध्यम से गीता को पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाए जाने को लेकर डा. अरविंद शर्मा ने जो आवाज बुलंद की है, वह निश्चित तौर पर सराहनीय है और डा. अरविंद शर्मा के प्रयासों के बाद सरकार भी इस दिशा में सकारात्मक प्रयास कर रही है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static